चीन ने कहा- हम कोरोना के उत्पत्ति की जांच को तैयार, अमेरिका नये शीत युद्ध की तरफ धकेल रहा

New Delhi : चीन के विदेश मंत्री वॉन्ग यी ने रविवार को कहा कि चीन के दरवाजे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सहयोग करने के लिये खुले हैं। हम कोरोनावायरस के सोर्स की जांच के लिए तैयार हैं, लेकिन इसमें राजनीतिक दखल नहीं होना चाहिये। अमेरिकी नेता वायरस की उत्पत्ति को लेकर झूठ बोल रहे हैं। वे चीन को कलंकित करना चाहते हैं। साथ ही कहा कि अमेरिका चीन के साथ संबंधों को नये शीत युद्ध की ओर धकेल रहा है।
यी ने कोरोनावायरस से उपजे तनाव और हॉन्गकॉन्ग की स्थिति पर मीडिया से बातचीत करते हुये कहा- अमेरिका की कुछ राजनीतिक ताकतों ने चीन और अमेरिका के संबंधों को गिरफ्त में ले रखा है। चीन की अमेरिका को बदलने में कोई दिलचस्पी नहीं है। अमेरिका भी विकास के रास्ते पर आगे बढ़ते चीन को नहीं रोक सकता।
वॉन्ग ने अमेरिका पर पलटवार करते हुये कहा – अमेरिका में राजनीतिक वायरस फैल रहा है। यह चीन पर हमला करने और आरोप लगाने के हर मौके का इस्तेमाल करता है। वहां के कुछ नेताओं ने बुनियादी तथ्यों की पूरी तरह से नकारा। वो झूठ का इस्तेमाल कर चीन को टारगेट कर रहे हैं, साजिशें रची जा रही हैं। हम बिना देरी किये हॉन्गकॉन्ग में नया सुरक्षा कानून लागू करेंगे। पिछले साल हॉन्गकॉन्ग में चीन की राष्ट्रीय सुरक्षा को गंभीर खतरे में डालने की कोशिश की गई। इसके बाद यह कानून लाना जरूरी था।
उल्लेखनीय है कि चीन ने हॉन्गकॉन्ग में लोकतंत्र की आवाज दबाने के लिए हाल ही में एक कानून पेश किया है। इस कानून के जरिये चीन अब हॉन्गकॉन्ग को भी अपने राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के दायरे में लाने की कोशिश कर रहा है। हॉन्गकॉन्ग में चीन के इस कदम का जबरदस्त विरोध हो रहा है। अमेरिका समेत कई देशों ने चीन के इस कदम की कड़ी आलोचना की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 1 = 1