कहां से पैदा हुए ऐसे लोग : प्लास्टिक की थैलियों में थूक भरकर घरों मे फेंक रहीं महिलाएं

New Delhi : राजस्थान में कुछ महिलाओं द्वारा प्लास्टिक की थैलियों में थूक भरकर घरों में फेंकने का मामला सामने आया है। प्रदेश में कोरोना वायरस के मद्देनजर सार्वजनिक रूप से थूकने पर प्रतिबंध है। लेकिन कोटा के वल्लभवाड़ी इलाके में कुछ महिलाएं प्लास्टिक की थैलियों में थूक भरकर घरों में फेंकती हुई सीसीटीवी कैमरों में कैद हुई हैं।

गुमानपुरा सर्किल इंस्पेक्टर मनोज सिकरवार ने कहा कि पूरे इलाके को सेनिटाइज कर दिया गया है और आरोपियों की तलाश जारी है। राजस्थान में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए गहलोत सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर प्रतिबंध लगा रखा है। प्रदेश में अब जो सार्वजनिक स्थान पर पान-मसाला आदि चबाकर थूकता हुआ पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
शुक्रवार की देर शाम राजस्थान स्वास्थ्य विभाग ने बयान जारी किया, राजस्थान महामारी रोग अधिनियम 1957 की धारा 2 के तहत तंबाकू और अन्य उत्पादों को चबाने के बाद सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर राजस्थान सरकार द्वारा प्रतिबंध लगाया गया है। उल्लंघन करने वाले के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। राजस्थान में कोरोना वायरस के संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 804 हो गई है। प्रदेश में इस जानलेवा वायरस से अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 21 मरीज पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं या उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

इधर देश में कोरोना आपदा का कहर बढ़ता जा रहा है। भारत में कोरोना से 300 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और 9 हजार से ज्यादा इससे संक्रमित हैं। इस बीच उत्तर प्रदेश के आगरा से दिल को दुखी करने वाली एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर आप व्यथित हो उठेंगे। आगरा के रामबाग चौराहे पर एक दूध वाले की दूध की टंकी गिर गई। इसके बाद क्या आदमी और क्या जानवर दोनों सड़क पर एक साथ दूघ पीने लगे। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें एक आदमी दूध उठाकर एक बर्तन में रख रहा है, वहीं कुछ कुत्ते दूसरी तरफ उसी दूध को पी रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + 3 =