प्रियंका की भी योगी को शाबाशी, कहा – कोटा से छात्रों को घर लाने के लिये सरकार को बधाई

New Delhi : बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने कल यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार को बधाई दी कि सरकार कोटा से छात्रों को उत्तर प्रदेश लेकर चली आई। आज कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने भी योगी आदित्यनाथ सरकार को शाबाशी दी। प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर एक वीडियो संदेश जारी कर कहा कि मैं यूपी की सरकार को बहुत बहुत बधाई दे रही हूं कि वो बच्चों को कोटा से छात्रों को लेकर उत्तर प्रदेश आ गई।

वैसे उन्होंने प्रवासी मजदूरों का मसला उठाया। कई राज्यों में मजदूर अभी भी फंसे हुए हैं और वो अपने घर जाना चाहते हैं। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने संदेश में कहा है कि सरकार को गैर राज्यों में रह रहे प्रवासी मजूदरों की भी चिंता करनी चाहिए जो अपने घर जाना चाहते हैं। इससे पहले बसपा प्रमुख मायावती ने भी मजदूरों की व्यवस्था करने की मांग की थी।

प्रियंका ने कहा – कई दिनों से जो यूपी के प्रवासी मजदूर अलग अलग प्रदेशों में फंसे हुए हैं, उनसे मैं बात कर रही हूं। मैंने राजस्थान, दिल्ली, सूरत, इंदौर, भोपाल, मुंबई और अन्य प्रदेशों में फंसे हुए लोगों से बात की। उनकी सबसे बड़ी समस्या क्या है? मज़दूरी करने के लिए ये अलग-अलग शहरों में गए। लॉकडाउन हुआ। मजदूरी बंद हो गई। आगे राशन भी ख़त्म हो गया। अब छह-छह लोग, आठ- आठ लोग एक कमरे में बंद हैं। राशन मिल नहीं रहा है। बहुत ही घबराए हुए हैं, बहुत ही डरे हुए हैं और किसी भी तरह से घर जाना चाहते हैं। और हम इनको दोषी ठहरा नहीं सकते कि आप घर जाना चाहते हैं। हम और आप भी तो अपने परिवार के साथ रहना चाहते हैं।

इधर राजस्थान के कोटा में फंसे छात्रों को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दोहराया है कि उत्तर प्रदेश ने जिस तरह से अपने यहां के विद्यार्थियों को वापस बुलाया है, उसी तरह से अन्य राज्यों को भी आगे आना चाहिए। वहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि कोटा से विद्यार्थियों को पटना लाए जाने से लॉकडाउन का मजाक उड़ेगा। उत्‍तर प्रदेश सरकार ने भी साफ कर दिया है कि लाए जा रहे छात्रों को जांच के बाद होम क्वारंटाइन किया जाएगा।
मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ ने भी छात्रों की वापसी के लिए सूची तैयार कर ली है। हालांकि यूपी सरकार के फैसले पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने निराशा जताई है। वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने योगी आदित्यनाथ की इस फैसले के लिए प्रशंसा की। गहलोत ने यह भी कहा, अन्य राज्य भी चाहें तो यूपी की तरह अपने छात्रों को वापस बुलाने का फैसला कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + 3 =