मायावती बोलीं – सरकार ने कोटा में फंसे 8000 बच्चों को UP लाकर अच्छा किया

New Delhi : बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनकी सरकार की खुलकर तारीफ की है। उन्होंने कोटा में फंसे छात्रों को बसों से यूपी लाने के फैसले की सराहना करते हुए कहा कि सरकार ने यह अच्छा काम किया है। लेकिन सरकार को उन प्रवासी मजदूरों पर भी ध्यान देना चाहिये जो अभी इस मुश्किल घड़ी में अलग अलग जगहों पर फंसी हुई है। वहीं दूसरी ओर समाजवादी पार्टी के अखिलेश यादव ने कोटा मामले में सरकार पर तंज कसा है।

लॉकडाउन में राजस्थान के कोटा में कोचिंग करने गए प्रदेश के आठ हजार छात्र-छात्राओं को उत्तर प्रदेश वापस लाने के सीएम योगी आदित्यनाथ के कदम की मायावती ने जमकर सराहना की है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश से दो सौ से अधिक बस राजस्थान के कोटा भेजी हैं। आगरा, जालौन तथा झांसी से इन बसों को कोटा भेजा गया है। जिनमें मास्क के साथ सैनिटाइजर भी हैं। इसके साथ ही चालक तथा कंडक्टर को साफ निर्देश हैं कि फिजिकल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखते हुए बच्चों को बस में बैठाया जाए।
इन बसों में प्रदेश के सभी 75 जिलों के छात्र-छात्राओं को लाया जा रहा है। इन सभी के शनिवार रात या रविवार सुबह तक लखनऊ तथा अन्य जिलों में पहुंचने की संभावना है। कोटा में फंसे छात्रों को लेने कासगंज डिपो की चार बसें कोटा पहुँची हैं। दो बसों में बरेली, एक-एक मे पीलीभीत, शाहजहांपुर, बदायूं के छात्र आएंगे।

बसपा मुखिया मायावती ने सीएम योगी आदित्यनाथ के इस कदम की सराहना करते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा है कि कोचिंग पढऩे वाले लगभग 7500 बच्चों को लॉकडाउन से निकालने व उन्हें सुरक्षित घरों तक भेजने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने, काफी बसें कोटा, राजस्थान भेजी है। यह स्वागत योग्य कदम है। बीएसपी इसकी सराहना भी करती है। उन्होंने यह भी कहा, लेकिन सरकार से यह भी आग्रह है कि वह ऐसी चिन्ता यहां के उन लाखों गरीब प्रवासी मजदूर परिवारों के लिए भी जरूर दिखाये, जिन्हें अभी तक भी उनके घर से दूर नारकीय जीवन जीने को मजबूर किया जा रहा है। इससे पहले मायावती ने PM Modi के लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले की बहुत सराहना की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + 1 =