रमजान में नमाज के लिए मौलवी ने इकट्ठी की 25 लोगों की भीड़, अब खुद हो गये कोरोना पॉजिटिव

New Delhi : कोरोना आपदा के बीच दक्षिणी बांग्लादेश की एक स्थानीय मस्जिद में दो दर्जन से अधिक लोगों को नमाज के लिए एकत्रित करने वाले एक मौलवी कोरोना से ग्रस्त पाए गए हैं। रमजान के महीने में उन्होंने तकरीबन दो दर्जन लोगों का नमाज के दौरान नेतृत्व किया था। बीडीन्यूज24 के अनुसार, मगुरा जिले के अदादंगा गांव की एक मस्जिद में मौलवी ने नमाज के लिए लोगों को इकट्ठा किया था। मौलाना के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रशासन वहां आने वाले अन्य 20-25 लोगों की सूची तैयार कर रहा है। वहीं, अगर किसी में भी कोरोना के लक्षण पाए गए तो उनका कोरोना का टेस्ट किया जाएगा।
शालिकहा उप-जिले के मुख्य कार्यकारी अधिकारी तनवीर रहमान ने बताया कि मस्जिद से डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर स्थित मौलवी के बाघरपारा पशिचिमा गांव को लॉकडाउन कर दिया गया है। बांग्लादेश में अभी तक 5,416 कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं। इसके अलावा रविवार तक 145 लोगों की जान जा चुकी है। बांग्लादेश में कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए छह अप्रैल से ही मस्जिदों में एकत्रित होकर नमाज पढ़ने पर रोक लगा दी है। वहीं, इससे संबंधित मंत्रालय ने भी नोटिस जारी करके लोगों से घरों में रहकर नमाज पढ़ने की अपील की है।
नोटिस में कहा गया है कि शुक्रवार की नमाज पढ़ने के लिए मस्जिदों में ज्यादा से ज्यादा दस लोग ही एकत्रित हो सकते हैं। वहीं, कोरोना वायरस की वजह से पांच मई तक के लिए लॉकडाउन को बढ़ाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

44 − 43 =