पाकिस्तान अगर भारत से खेलना चाहता है तो पहले सीमापार आतंकवाद बंद करे : कपिल देव

New Delhi : ऑल टाइम ग्रेट ऑलराउंडर Kapil Dev ने कहा है कि पाकिस्तान के साथ तब तक क्रिकेट नहीं हो सकती जब तक कि वो सीमा पर और भारत में अंदर आतंकवाद को बढ़ावा देना बंद नहीं करता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और आतंकवाद को लेकर भारत का रुख स्पष्ट है और कोई कारण नहीं है इससे डिगने का। हाल ही में पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शोएब अख्तर ने जब भारत पाकिस्तान क्रिकेट श्रृंखला शुरू करने की बात की थी तो कपिल देव ने उस वक्त भी कहा था कि ऐसा फिलहाल संभव नहीं है।

उन्होंने कहा – मैँ कोरोना वायरस से निपटने के लिए धन जुटाने की कवायद में भारत और पाकिस्तान के बीच बाइलेटरल सीरीज के शोएब अख्तर के प्रस्ताव के खिलाफ हूं। पाकिस्तान अगर भारत के साथ द्विपक्षीय क्रिकेट खेलने को इतना ही बेचैन है तो पहले सरहद पार से भारत विरोधी गतिविधियां बंद करे और वह पैसा नेक काम में लगाए।

कपिल ने कहा – आप भावनाओं के वेग में बहकर कह सकते हैं कि भारत और पाकिस्तान के मैच कराए जाने चाहिए। इस समय क्रिकेट खेलना प्राथमिकता नहीं है। अगर आपको पैसा चाहिए तो सीमा पार से गतिविधियां बंद कीजिए। उन्होंने कहा कि वह पैसा अस्पतालों और स्कूलों पर लगाइए। अगर हमें पैसा चाहिए तो हमारे कई धार्मिक संगठन हैं और इस समय आगे आना उनका फर्ज है। कोरोना महामारी के कारण दुनिया भर में खेल रद्द हो गए हैं। कपिल ने यूट्यूब चैनल ‘स्पोर्ट्स तक’ से कहा कि मैं वृहत तस्वीर देख रहा हूं। क्या आपको लगता है कि इस समय बात करने के लिए क्रिकेट ही बचा है। मैं बच्चों को लेकर चिंतित हूं जो स्कूल और कॉलेज नहीं जा पा रहे। उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि पहले स्कूल खुलें। क्रिकेट और फुटबॉल बाद में होते रहेंगे। कपिल का मानना है कि कोरोना वायरस महामारी से उबरने के बाद स्कूल और कॉलेज खोलना युवा पीढ़ी के लिए प्राथमिकता होनी चाहिए और कुछ समय के लिए खेलों की बहाली टाली जा सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

76 − 71 =