नोएडा की झुग्गी से कोरोना के 200 संदिग्धों की पहचान, झारखंड से आया था कोरोना पॉजेटिव

New Delhi : नोएडा के सेक्टर 8 स्थित झुग्गी में करीब 200 लोगों कोरोना संदिग्ध हैं। स्वास्थ विभाग और पुलिस की टीम मौके पर पहुंची हैं। सभी को अब क्वारनटीन सेंटर ले जाया जाएगा। अगर यह आकंड़ा सही साबित हो जाता है तो यहां अब तक का सबसे ज्‍यादा संक्रमित वाला इलाका ना सिर्फ यूपी में बल्‍कि पूरे देश में बन जाएगा।इधर पुलिस और स्‍वास्‍थ्‍य विभाग की टीम कोरोना के संदिग्‍धों की जांच में जुटी है। सभी 200 लोगों को क्‍वारंटाइन किया जा रहा है। यूपी के नोएडा में सबसे ज्‍यादा कोरोना के मरीज मिले रहे हैं।

झुग्गी के बाहर पुलिस का पहरा


नोएडा के सेक्टर 8 के झुग्गी इलाके में कोरोना से संक्रमित होने के शक में करीब 200 लोगों को क्‍वारंटाइन किया जा रहा है। इन्‍हें क्‍वारंटाइन सेंटर में रखने के लिए नोएडा स्वस्थ विभाग की टीम और पुलिस पहुंच चुकी है। दरअसल एक शख्स झारखंड से आया और वह इसके बाद वह यहां लोगों से मिला। पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम को शक है कि करीब 200 लोग पूरे मामले में कोरोना संदिग्ध हो सकते हैं। इसलिए स्वास्थ विभाग की टीम सभी एहतियात बरतते हुए करीब 200 लोगों को एंबुलेंस के जरिए क्‍वारंटाइन सेंटर ले जा रही है, जहां उनका कोरोना टेस्ट किया जाएगा। इधर गौतम बुद्ध नगर के डीसीपी संकल्‍प शर्मा ने कहा कि नोएडा के हरोला में तबलीगी जमात के सदस्‍यों के संपर्क में आए हैं उन्‍हें क्‍वारंटाइन किया जा रहा है।
इधर महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1000 के पार हो गई है। यहां पर 1018 लोग कोरोना से संक्रमित हैं। अकेले मुंबई में कोरोना के 642 केस हैं। पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में कोरोना के 150 नए मामले सामने आए हैं। राजस्थान में कोरोना वायरस के 15 और केस सामने आए हैं। सभी के सभी तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। जयपुर के रामगंज में भी तबलीगी जमात के तीन लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जून तक स्कूल और धार्मिक आयोजनों पर पूरी तरह से रोक बढ़ाने पर फैसला हो सकता है। वहीं, अफसरों के ट्रांसफर भी 6 महीने तक टाले जाने की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

58 − 53 =