केंद्र का बड़ा फैसला : IT, BPO, MNC के कर्मचारी 31 जुलाई तक करेंगे वर्क फ्रॉम होम

New Delhi : केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार को राज्य के सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रियों से कहा कि निवेश को बढ़ावा देने वाली पहलों के जरिए इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण को बढ़ावा देने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ें। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण के क्षेत्र में भारत के सामने अपार संभावनाएं हैं और राज्यों को इसका फायदा उठाना चाहिए। कोरोना वायरस महामारी को लेकर प्रसाद ने राज्यों के आईटी मंत्रियों के साथ वीडियो-कांफ्रेंस के माध्यम से बातचीत के दौरान यह बात कही।

इस बातचीत के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि घर से काम करने की सुविधा के लिए कनेक्टिविटी के नियमों में ढील दी गई है। ये छूट 30 अप्रैल को खत्म होने वाली थी, जिसे अब 31 जुलाई तक बढ़ा दिया गया है। केंद्रीय मंत्री के मुताबिक फिलहाल आईटी सेक्टर के 85 फीसदी कर्मचारी घर से ही काम कर रहे हैं और आने वाले समय में वर्क फ्रॉम होम सामान्य प्रक्रिया हो जाएगी।
घर से काम सही तरीके से हो इसके लिए ज्यादा से ज्यादा छूट कंपनियों को दी गई है। जिससे उनके काम काज में कोई असर न पड़े। रविशंकर प्रसाद ने इसके साथ ही युवा कारोबारियों को नई तकनीक और खोज सामने रखने को कहा है जिससे कोरोना संकट से निपटने में मदद मिले। उनके मुताबिक सरकार कोरोना संकट को एक अवसर के रूप में भी देख रही है, जिससे आईटी सेक्टर में बड़े बदलाव लाए जा सकें।
अब ऐसे में जब सरकार ने लगभग यह तय कर लिया है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को घर में रखना चाहिये और बाहर कम से कम भीड़ रखना चाहिये तो यह सवाल भी मौजू हो गया है कि स्कूल कब से खुल सकेंगे। क्योंकि आईटी, बीपीओ्, एमएनसी को कर्मचारियों से वर्क फ्रॉम हाम कराने को कहा गया है तो निश्चत रूप से बच्चों को तो अगस्त तक घर से बाहर नहीं ही निकलने दिया जायेगा। अब ये बड़ा सवाल हो गया है कि स्कूल कब से खुलेंगे।

लॉकडाउन में रोशन तो हैं लेकिन खाली पड़ा है गुड़गांव का साइबर हब

हालांकि अभी तक मानव संसाधन मंत्रालय की ओर से कुछ भी स्पष्ट नहीं कहा गया है लेकिन ऐसी उम्मीद थी कि गर्मी छुट‍्टियों के बाद स्कूल खोले जायेंगे। लेकिन सरकार के मौजूदा रुख खासकर वर्क फ्रॉम होम लेकर जो सरकार का रुख है उससे तो यह साफ हो गया है कि आनेवाले दिन बच्चों के लिये भी बहुत ज्यादा मुश्किल भरे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

41 − 38 =