देश के सबसे अमीर 10 लोगों के पास 12 लाख करोड़ रुपया, लेकिन कोरोना के लिये अभी तक 12 रुपये नहीं दिये

New Delhi : दुनियाभर में अमीर Corona Virus से निपटने के लिए करोड़ों अरबों रुपए दान दे रहे हैं। भारत के अरबपति और तमाम सेलेब्रिटीज़ का सहयोग हाथ धोने और दूसरे ऐहतियातों के बारे में जानकारी देने तक सीमित है। 

भारत में 10 सबसे अमीर शख्स ऐसे हैं – मुकेश अंबानी (3.64 लाख करोड़), गौतम अडानी (1.11 लाख करोड़), हिन्दुजा ब्रदर्स (1.10 लाख करोड़पी मिस्त्री (1.06 लाख करोड), उदय कोटक (1.05 लाख करोड़), शिव नाडर (1.02 लाख करोड़), राधाकृष्णन दमानी(1.01 लाख करोड़गोदरेज फैमिली (85,200 करोड़लक्ष्मी मित्तल (74,550 करोड़), कुमार मंगलम बिड़ला (68,160 करोड़) इसतरह देश के दस बड़े अमीरों की संपत्ति ही लगभग 12.27 लाख करोड़ रुपये की है लेकिन क्या मजाल कि इन अमीरों में से किसी एक नेभी 12 रुपये भी निकाले हों Corona Virus जैसी आपदा से निपटने के लिये।

ये अमीर भी केवल सरकार को खुश करनेवालों काम कर रहे हैं या फिर थालियाँ पीटकर धन्यवाद दे रहे हैं। 

दूसरी ओर माइक्रोसॉफ़्ट के संस्थापक बिल गेट्स जैसे लोग हैं जो एक झटके में सैकड़ों करोड़ दानवीर देते हैं। बिल गेट्स ने अपनेफाउंडेशन के जरिए कोरोना की वैक्सीन बनाने और अफ्रिका एशिया में इलाज के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए 750 करोड़रुपए देने की घोषणा की है।

अलीबाबा के फाउंडर जैक मा कोरोना की वैक्सीन विकसित करने के लिए 100 करोड़ रुपए दे चुके हैं। साथ ही वह अमेरिका को 5 लाख टेस्टिंग किट और 10 लाख फेस मास्क भेज चुके हैं। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा रविवार को जनता कर्फ्यू की घोषणा के बाद सोशलमीडिया पर अनेकों यूजर भारत के अमीरों से यह सवाल पूछ रहे थे आप लोग क्या कर रहे हैं।

दुनिया भर के फुटबॉलर अब तक 50 करोड़ रुपए दान कर चुके हैं। अमेरिका की नेशनल बॉस्केटबॉल एसोसिएशन फंड जुटाने कीअभियान चला रही है। 

उसने अब तक 300 करोड़ रुपए दान कर चुकी है। वहींभारत में सचिनरोहित से लेकर पीवी सिंधु तक हाथ कैसेधोएं का वीडियो बना के डाल रहे हैं। भारत में 40 करोड़ से ज्यादा आबादी रोज कमानेखाने वाली है। लॉकडाउन के चलते इनकेजीवनयापन का संकट है।

इटली में सबसे भयावह स्थिति है। इटली के 18 अमीरों अब तक कोरोना से निपटने के लिए 250 करोड़ रुपए से ज्यादा डोनेट किए हैं।फैशन लीजेंड अरमानी ने मिलान और रोम में अस्पतालों को 10 करोड़ रुपए सहयोग किया है। हांग कांग के सबसे अमीर लि कांग शिंगने वुहान में मेडिकल वर्करों के लिए 98 करोड़ रुपए डोनेट किए हैं। यूएस पॉप स्टार रिहाना ने वेंटिलेटर खरीदने के लिए 10 करोड़ रुपएदान किए हैं।

आस्ट्रेलिया के माइनिंग बिज़नेस से जुड़े अरबपति Clive Palmer ने 7 करोड़ रुपये दिये हैं कोरोना वायरस की दवाई की शोध के लिये।इंग्लैंड के विल्टशायर में शेफ रोजर जॉन्स ने लोगों को मुफ्त खाना खिलाने की मुहिम शुरू की है। रोजर का खुद का रेस्तरां हैं जोकाफीमशहूर है। यहां की एक थाली की कीमत 12 हजार रुपए है। जिसमें मशरूमवेजिटेरियन करीमॉन्कफिश और लैंब केसरोलशामिलहै। यहां खाना लोगों को मुफ्त खिलाया जा रहा हैइसमें रोजर का साथ दे रही हैं उनकी पत्नी स्यू। ज्यादा से ज्यादा यह लोगोंतक पहुंचेइसके लिए ट्विटर पर इसकी घोषणा भी की गई है।

मशहूर फ़ुटबॉलर  cristiano Ronaldo  ने पुर्तगाल के अपने दो होटलों को अस्थाई अस्पताल में बदल दिया है। उन्होंने लिस्बनऔरफुंचाल के अपने दोनों CR7 होटल को अस्पताल में बदला है। स्पेनिश अखबार मार्का की रिपोर्ट के अनुसारयहां वायरस सेसंक्रमितलोगों का मुफ्त इलाज किया जाएगा। इसके अलावा डॉक्टरों और नर्स को सैलरी भी उनका फाउंडेशन देगा। मरीज औरमेडिकल स्टाफका रहनेआनेजानेखानेपीने और दवाइयों का पूरा खर्च उनका फाउंडेशन उठाएगा। रोनाल्डो के ये दोनों होटल फोरस्टार हैं। लिस्बनके होटल में एक रात का किराया 18 हजार और फुंचाल के होटल में एक रात का किराया 15 हजार रुपए है।

रोनाल्डो के बाद अब एथलीट्स खेल से जुड़ी चीजें दान कर रहे हैं जिसकी बोली लगाई जाएगी और इकट्‌ठा हुई रकम से मददकीजाएगी। इस मुहिम का नाम है ‘एथलीट्स फॉर रिलीफ बुधवार तक 70 एथलीट इसका हिस्सा बन चुके हैं। इसमें दुनिया कीसबसेफिट महिला एथलीट सिमोन बाइलस और माइकल फेल्प्स जैसे ओलंपिक चैम्पियन शामिल हैं। हर एक चीज के लिए 25 डॉलरकीन्यूनतम बोली लगाना जरूरी है। बोली लगाने की अधिकतम सीमा तय नहीं की गई है। यह सारा पैसा ‘सेंटर फॉर डिजास्टर‘ कोदियाजाएगा। यह संस्था पीड़ित लोगों की मदद करेगी।

इससे पहले उटाह जैज के खिलाड़ी रूडी गोबर्ट को कोरोना वायरस होने के कारण पूरी एनबीए लीग को रद्द कर दिया गया था। रूडीनेएनबीए के लिए काम करने वाले लोगों को हुए नुकसान के लिए भरपाई के लिए बनाए गए फंड के लिए पांच लाख डॉलर का दानदियाथा। इसके बाद कई एनबीए टीमों ने ऐलान किया था कि वह दान करेंगे।

हालांकि एक दो लोग इंडिया में भी सामने  रहे हैं।वेदांता के चेयरमैन अनिल अग्रवाल ने कोरोना से लड़ने के लिए 100 करोड़ रुपएदेने की घोषणा की है। उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने रविवार को ट्वीट कर वेंटिलेटर बनाने की पेशकश की। महिंद्रा ने कहा कि इस खतरे सेनिपटने के लिए महिंद्रा ग्रुप में हम अभी से ही इस बात पर काम करना शुरू कर चुके हैं कि वेंटिलेटर बनाया जा सके। छोटे कारोबारियोंऔर स्वरोजगार वाले लोगों को हुए नुकसान की हम भरपाई करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

94 − 86 =