Corona पर भारत में राहत भरी खबर : 5 मरीजों को ठीक कर दिया अपने डाक्टरों ने

New Delhi : देश में Corona Virus से पीड़ित मरीजों की संख्या 100 के पार पहुंच गई है. कई राज्यों ने इसे महामारी और केंद्रसरकार ने राष्ट्रीय आपदा घोषित कर दिया है. ऐसे में राजस्थान से राहत भरी खबर आई है. प्रदेश में कोरोना पीड़ित तीन मरीज पूरी तरहठीक हो गए हैं. इनकी जांच रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है. यहीं नहीं दिल्ली के भी दो मरीज़ों के ठीक हो जाने की खबर है.

स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी रोहित कुमार सिंह ने रविवार को पत्रकारों से बात करते हुए यह जानकारी दी. उन्होंने बतायाकि पॉजिटिव पाए गए 69 साल के इटली के नागरिक और 85 साल के जयपुर निवासी व्यक्ति की जांच रिपोर्ट अब नेगेटिव आई है. जयपुर निवासी व्यक्ति भी दुबई से लौटा था. सिंह ने कहा कि इटली की 70 साल की महिला को लेकर अब तक कोरोना पॉजिटिव पाएगए तीन मरीज ठीक हो चुके हैं.

उन्होंने बताया कि तीनों ही मरीजों का उपचार एसएमएस अस्पताल में किया गया. स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी ने कहाकि जयपुर में अब तक कुल 402 लोगों के सैंपल लिए गए हैं. इनमें से 393 की रिपोर्ट नेगेटिव और चार की पॉजिटिव आई. पांच कीरिपोर्ट आनी अभी बाकी है. उन्होंने बताया जोधपुर के सभी 10 और झालावाड़ के तीन लोगों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है.

सिंह ने बताया कि उदयपुर से दो लोगों के सैंपल भेजे गए थे, जिनकी रिपोर्ट आनी अभी बाकी है. प्रदेश में अब तक कुल 417 लोगों कीजांच की गई है, जिनमें से चार पॉजिटिव पाए गए हैं. सात की रिपोर्ट आनी बाकी है. स्वास्थ्य विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी ने लोगोंसे भयभीत होने की अपील की और कहा कि राजस्थान सरकार अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए हर संभव उपाय कर रही है.

इससे पहले प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव चौथे मरीज के सामने आने के बाद स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने इसके लिए केंद्र सरकार कोजिम्मेदार बताते हुए कहा था कि सभी मरीज विदेश से आए हैं. सभी दिल्ली एयरपोर्ट होकर आए हैं. अगर केंद्र सजग होता तो कोरोनावायरस जयपुर तक नहीं पहुंचता.

राजस्थान ने काेराेना काे हराकर सभी काे चाैंका दिया है. यहां सवाईमानसिंह (एसएमएस) अस्पताल के डॉक्टरों की टीम ने स्वाइन फ्लू, मलेरिया और एचआईवी की दवा देकर काेराेना से पीड़ित तीन मरीजाें काे ठीक कर दिया है. वहीं, जयपुर निवासी 24 वर्षीय एक मरीजका इलाज जारी है.

एसीएस हैल्थ रोहित कुमार सिंह ने बताया कि एसएमएस के डाॅक्टर्स ने कोरोना पॉजिटिव इटली निवासी महिला को लोपिनाविर200एमजी/रिटोनाविर 50एमजी का डोज दिन में दो बार दिया. इस कॉम्बिनेशन से आईसीएमआर (इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकलरिसर्च) भी संतुष्ट था। इसके अलावा इटली के ही 69 वर्षीय और जयपुर के आदर्श नगर निवासी 85 वर्षीय बुजुर्ग को स्वाइन फ्लू में दीजाने वाली ओस्लेटामिविर और मलेरिया में इस्तेमाल होने वाली दवा क्लोरोक्वीन दी. इन दवाओं के कॉम्बिनेशन का ही परिणाम रहा कितीनों की रिपोर्ट निगेटिव आई है. दवा का कॉम्बिनेशन जानने के लिए कर्नाटक, बिहार, दिल्ली, गुजरात, मुंबई और आंधप्रदेश के डॉक्टरोंने जयपुर के एसएमएस अस्पताल के डॉक्टरों से संपर्क किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 6 = 4