धोनी का लक्ष्य 30 लाख कमाना था, 800 करोड़ कमाकर भी क्यों नहीं दे रहे दान… और जाफर चुप हो गये

New Delhi : टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज Wasim Jaffer ट‍्विटर पर उस समय खामोश हो गये जब एक क्रिकेट फैन ने उनसे उनके दोस्त और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान MS Dhoniके बारे में एक सीधा साधा सवाल पूछ लिया।
दरअसल वसीम जाफर ने शनिवार को ही अपने प्रशंसकों से ऑनलाइन सवाल पूछने को कहा था। इसके प्रोमोशन में उन्होंने कहा था कि वह सभी सवालों का ईमानदारी से जवाब देंगे। अपना वादा निभाते हुए वसीम जाफर ने एमएस धोनी से जुड़़े एक सवाल पर कहा – करियर की शुरुआत में धोनी सिर्फ 30 लाख रुपये कमाना चाहते थे, जिससे वह अपने शहर रांची में आराम का जीवन गुजार सकें। टीम के साथ अपने करियर के पहले या दूसरे साल में मुझे याद है कि एमएस ने मुझसे कहा था कि वह क्रिकेट से सिर्फ तीस लाख रुपये कमाना चाहते हैं, जिससे वह रांची में शांति का जीवनयापन कर सकें। लेकिन अगर वर्तमान की बात करें, तो धोनी की कुल संपत्ति 110 मिलियन डॉलर से ज्यादा की है। मतलब उनकी कुल संपत्ति करीब 800 करोड़ रुपये की है।
और इसी के बाद आया बंपर सवाल। फैन ने कहा – जब ईश्वर ने उन्हें इतना पैसा दिया है। अब जब देश के लोगों पर जीवन-मरण का संकट है, तो वह अक्षय कुमार जैसा बड़ा दिल क्यों नहीं दिखा रहे। धोनी के प्रशंसक ही गली-गली और घर-घर चर्चा कर रहे हैं कि आईपीएल से अरबों रुपये कमाने उनके हीरो ने मदद का ऐलान अभी तक क्यों नहीं किया? सवाल आया और जाफर चुप हो गये।
बता दें कि एमएस धोनी साल 2004 में लगभग एक ही समय में टीम इंडिया में आए थे। एमएस धोनी इस दौरान वसीम जाफर के रूम पार्टनर भी रहे थे। इसी दौरान बातचीत में एमएस धोनी ने जाफर के साथ अपने भविष्य के आर्थिक और दूसरे लक्ष्य को साझा किया था।
बहरहाल धोनी जैसी ही स्थिति विराट कोहली की है जो साल के अरबों रुपये कमा रहे हैं। खास कर ऐसे समय जब देश के प्रधानमंत्री ने समस्त देशवासियों से ज्यादा से ज्यादा दान देने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 3 = 1