कांग्रेसी दिग्गज चिदंबरम भी हुए PM Modi के मुरीद, कहा – मोदी जी के समर्थन के लिए कर्तव्यबद्ध हूं

New Delhi : कांग्रेसी दिग्गज और पूर्व वित्त मंत्री P. Chidambaram ने इंडियन एक्सप्रेस में लिखे अपने कॉलम में जनता कर्फ्यू कासमर्थन किया.

उन्होंने लिखा है – coronavirus के खिलाफ लड़ाई में वह प्रधानमंत्री का समर्थन करने के लिएकर्तव्यबद्धहैं और मैं ऐसा करूंगा. उन्होंने सरकार से शहरों और कस्बों को अस्थायी रूप से बंद करने की भी मांग की. कोरोना वायरस संक्रमण के देश में अब तक 396 मामले सामने आए हैं.

चिदंबरम ने कोरोना वायरस के अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर चिंता जताई है. उन्होंने लिखा – PM Modi ने कहा किवर्तमान आर्थिक नरमी कोरोना वायरस की वजह से शुरू हुई है, यह सही नहीं है. जीडीपी की वृद्धि दर में गिरावट का सिलसिला कोरोनावायरस संकट से पहले का है.

उन्होंने लिखामुझे पूरा यकीन है कि प्रधानमंत्री मोदी कुछ दिनों में कड़े सामाजिक और आर्थिक उपायों के साथ सामने होंगे. मैं सभीकस्बों और शहरों में दोचार हफ्तों के लिए अस्थायी लॉकडाउन (बंदी) की मांग करता हूं.

उन्होंने सुझाव दिया कि पीएमकिसान योजना के तहत मिलने वाली राशि को दोगुना करके 12,000 करना चाहिए. उनका कहना कोसरकार को अगले छह महीने में कोरोना वायरस के कम करने के लिए 5,00,000 करोड़ रुपये का इंतजाम करना चाहिए. चिदंबरम नेलिखा, “यह नैतिक और आर्थिक रूप से जरूरी है और हमें पैसे का इंतजाम करना चाहिए और उसे खर्च करना चाहिए.

इधर शनिवार को PM Narendra Modi के आलोचक और  बॉलिवुड स्पूर्व BJP MP Shatrughan Sinha भीजनता कर्फ़्यूके मसलेपर उनके समर्थन में खुलकर गये हैं.

उन्होंने आज कहामाननीय पीएम महोदय, हम सभी 22 मार्च को पूरी ईमानदारी सेजनता कर्फ्यूका समर्थन करते हैं, देश के हित मेंइस घातक कोरोना वायरस से निपटने के लिए आपके द्वारा उठाए गए और सुझाए गए कदम बेहद सराहनीय हैं. साथ ही सभी व्यापारी, दिहाड़ी मजदूरों के लिए  प्रार्थना करता हूं.

पीएम मोदी ने जनता से 22 मार्च रविवार कोजनता कर्फ्यूलगाने की अपील की है. उन्होंने कहा था कि आज प्रत्येक देशवासियों से एकसमर्थन मांग रहा हूंजनता कर्फ्यू, जनता के लिए, जनता के द्वारा‘, क्योंकि यह खुद पर लगाने वाला कर्फ्यू है. पीएम मोदी ने कहा कि 22 मार्च रविवार को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करना चाहिए. इस दौरान सड़क पर जाएं, मोहल्ले में जाएं.

नरेंद्र मोदी ने कहा था कि कोरोना से निश्चिंत हो जाने की सोच सही नहीं है. प्रत्येक भारतवासी को सजग रहना आवश्यक है. भारतवासियो आपसे जो भी मांगा दिया, आपने निराश नहीं किया. 130 करोड़ देशवासियों से कुछ मांगने आया हूं. मुझे आपसे आने वालेकुछ सप्ताह, कुछ समय चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा था कि इस संकट की घड़ी में सबसे जरूरी चीज है प्रत्येक भारतवासी सतर्क, सजग और सावधान रहे. आने वाले कुछ सप्ताह बेहद खास है और ऐसे समय में कोशिश करें, कम से कम घर से बाहर निकलने की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 3 = 7