द’र्दनाक हा’दसा: बारिश की वजह से टिनशेड गिरा, 2 गायों समेत 17 मवेशियों की हुई मौ’त

New Delhi: दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में भारी बारिश के चलते बीती रात टिनशेड गिर गया। इससे बड़ी संख्या में मवेशियों की मौ’त हो गई।

दिल्ली में बुधवार रात हुई झमाझम बारिश से एक और जहाँ दिल्ली वालों को गर्मी से राहत मिली तो कई मवेशियों को इसी बारिश की वजह से अपनी जा’न तक गंवानी पड़ी। दिल्ली में हुई बारिश और आंधी की वजह से नजफगढ़ इलाके में टिनशेड गिर गया। इससे 13 भैंस, 2 बछड़ें और 2 गाय की द’र्दनाक मृ’त्यु हो गई। साथ ही 5 भैंस घा’यल हुई है।

घा’यल भैंसों को पशु चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया है। पुलिस ने बताया कि इन टिनशेडों के ऊपर भारी-भरकम सामान रखा हुआ था। जब आंधी और बारिश आई तो टिनशेड वजन नहीं झेल पाया और टू’टकर मवेशियों के ऊपर जा गिरा। इससे कुल 17 मवेशियों की मौ’त हो गई।

गौ- सुरक्षा को लेकर चिंतित रहने वाली योगी सरकार में प्रशासन की ला’परवाही से 35 गायों की मौ’त

वहीँ 11 जुलाई को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में सिर्फ एक दिन के अंदर 35 गायों मौ’त हो गई थी। इस घटना ने आम जनता से लेकर प्रशासन तक खल’बली मचा दी थी। गायों की मौ’त किस कारण से हुई थी, इसका अभी सही से पता नहीं चल पाया। जिला प्रशासन का कहना है कि गायों की मौ’त आकाशीय बिजली के गिरने से हुई वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि गायों के रखरखाव में लापरवाही से गौशालाओं में पानी भर गया था। जिससे गायें द’लदल में फंस गई और उनकी मौ’त हो गई थी।

यह मामला प्रयागराज बहादुरपुर ब्लॉक के कांदी गांव का था। एक तरफ जहां योगी आदित्यनाथ गायों के आश्रय स्थल और उनके रखरखाव को लेकर योजनाएं चला रहे हैं। उनके खाने -पीने और उन्हें आ’पदा से बचाने की बात कर रहे हैं। वहीं प्रशासन की ला’परवाही से 35 बेजुबानों की मौत हो गई थी।