भारत में स्थापित किए जा रहे हैं 118 नये सामुदायिक रेडियो स्‍टेशन : प्रकाश जावड़ेकर

New Delhi: सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि देश में 118 नये सामुदायिक रेडियो स्‍टेशन स्‍थापित किये जा रहे हैं। इनमें से 16 केन्‍द्र, वा’मपंथी उ’ग्रवाद प्रभावी इलाकों में स्‍थापित किये जायेंगे। इस बात की पुष्टि आकाशवाणी ने की है। वामपंथी प्रभावी क्षेत्रों में सामुदायिक रेडियो स्टेशन स्थापित करने से इन क्षेत्रों में स्थिति को सामान्य करने में मदद मिलेगी।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा था कि भारत जल्द ही दुनिया का सबसे बड़ा देश बन जाएगा जहां हर घर में टेलीविजन सेट होगा।

जावड़ेकर ने कहा, “आने वाले वर्षों में हर घर में एक टीवी होगा। भारत में 25 करोड़ घर हैं और 18 करोड़ में एक टीवी सेट है। अभी भी सात करोड़ घर बिना टीवी के हैं।”

मंत्री ने कहा, “आज, हम एक छोटी सी शुरुआत कर रहे हैं, जिसमें हम दूर दराज के इलाकों में रहने वाले लोगों और गरीब लोगों के लिए मुफ्त डिश टीवी के सेटटॉप बॉक्स दे रहे हैं। हालांकि, जैसे ही हमारी अर्थव्यवस्था विकसित होगी, वैसे ही लोग टीवी खरीद लेंगे।आज लोग भोजन, कपड़े, आश्रय, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा और आजीविका की छह बुनियादी जरूरतों को पूरा करने में सक्षम हैं। ”

उन्होंने कहा कि निकट भविष्य में, भारत हर घर में टीवी वाला सबसे बड़ा देश होगा, ऐसा मेरा मानना ​​है।

जावड़ेकर ने कहा कि टेलीविजन ने 1990 के दशक के अंत में चैनलों के मशरूमिंग के साथ पिछले तीन दशकों में बड़े पैमाने पर विस्तार देखा है जबकि दूरदर्शन 1970 के दशक में एकमात्र चैनल था।उन्होंने कहा, “आज हमारे पास विभिन्न क्षेत्रों में 700 से अधिक टीवी चैनल हैं। 1992-93 में निजी चैनलों के आने के बाद इस क्षेत्र में क्रांति हुई थी।”

मंत्री ने केबल टीवी की शुरुआत को देश भर में टीवी के प्रसार का श्रेय दिया।