सुरक्षाबलों पर आतंकी हमले की साज़िश नाकाम,शोपियां में हिज़्बुल के पांच आतंकी गिरफ्तार

New Delhi जम्मू-कश्मीर में अक्सर सीमापार के उग्रवादियों,कबायलियों और आतंकवादियों की गतिविधियों के चलते राज्य की शांति व्यवस्था भंग होती है | कई बार इसमें आम नागरिकों से लेकर सुरक्षाबल के जवानों को भी निशाना बनाया जाता है । जम्मू कश्मीर राज्य में आतंकवादी संगठनों अपने नापाक इरादों को अंजाम तक पहुँचाने के लिए कई हरकतें करते रहते हैं । इस सिलसिले में राज्य का प्रशासन और उसकी पुलिस आतंकवाद से सख्ती से निपटने के लिए कदम उठा रही है । इस कड़ी में उसे सफलता तब हाथ लगी जब एक बड़ी अनहोनी को सूबे की पुलिस ने अपनी सूझबूझ और फुर्ती के चलते होने से रोक दिया।

जम्मू कश्मीर पुलिस ने बुधवार को राज्य के शोपिआँ ज़िलें में अपनी कार्रवाई के दौरान एक बड़ी आतंकवादी घटना को घटित होने से रोक दिया जब रेड के दौरान पुलिस को आईईडी विस्फोटक समेत कई संदिग्ध वस्तुएं ऐसी मिलीं जिनसे सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर हमला करने की योजन बनाई जा रही थी। इस मामले में पुलिस ने पांच आतंकवादियों को गिरफ्तार किया जो हिज़्बुल मुजाहिद्दीन नामक आतंक संगठन से जुड़े हैं। इस रेड में यदि पुलिस और प्रशासन की ओर से कार्रवाई न की गयी होती तो कोई बड़ी अनहोनी घटना हो सकती थी जिसके निशाने पर हमारे देश के सुरक्षाबल और सेनाएं थीं । सूबे की पुलिस ने साबित कर दिया कि प्रशासन की मुस्तैदी से पुलवामा और उरी में सेना पर हुए हमले जैसी आतंकवादी घटनाओं को रोकने में विशेष मदद मिलेगी ।