बड़ी खबर: धमाके के साथ तबाह हुई पनबिजली परियोजना की दीवार, PM मोदी करने वाले थे उद्घाटन

New Delhi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुछ हफ्तों बाद जिस पनबिजली परियोजना का उद्घाटन करने वाले थे उसी के कार्यालय में भयानक धमाके के साथ विस्फोट हुआ है।

घटना पूर्वी नेपाल की है, जहां भारत वहां के स्थानीय लोगों के लिए हाइड्रोइलेक्ट्रिसिटी प्रोजेक्ट तैयार कर रहा है। इसी परियोजना के कार्यालय में बम विस्फोट की घटना से हड़कंप मच गया है। पीएम मोदी अगले कुछ हफ्तों में इसका उद्घाटन करने वाले थे। 

नेपाल के संखुवासभा जिले के मुख्य जिला अधिकारी शिवराज जोशी ने बताया कि विस्फोट से इस परियोजना के कार्यालय की चारदीवारी नष्ट हो गई है। 900 मेगावाट क्षमता के अरुण -3 हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर प्लांट का कार्यालय खांडबरी -9 तुमलिंगटर में स्थित है। इस परियोजना के 2020 तक चालू होने की संभावना है। 

यह विस्फोट ऐसे समय हुआ है, जब मोदी 11 मई को अपनी आधिकारिक नेपाल यात्रा के दौरान इसका शिलान्यास करने जाने वाले हैं। अधिकारी ने कहा कि घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है और जांच के आदेश दे दिए गए हैं। हालांकि अभी तक किसी ने विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली है। अरुण -3 प्रॉजेक्ट के लिए प्रधानमंत्री मोदी और तब नेपाल के प्रधानमंत्री सुशील कोइराला की मौजूदगी में 25 नवंबर 2014 को परियोजना विकास समझौते पर हस्ताक्षर किए गए थे। भारत की ओर से इसमें सार्वजनिक क्षेत्र के सतलुज जल विद्युत निगम ने इस समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। 

नेपाल में एक महीने के भीतर किसी भारतीय संपत्ति पर यह दूसरा हमला है। इससे पहले 17 अप्रैल को विराटनगर में भारतीय दूतावास के क्षेत्रीय कार्यालय के निकट प्रेशर कुकर बम विस्फोट हुआ था। इससे परिसर की दीवार क्षतिग्रस्त हो गई थी।