पत्रकार की जलने से संदिग्ध मौ’त ,एडीओ पर जलाने का आरोप

New Delhi : मध्यप्रदेश में सागर जिले के शाहगढ़ क्षेत्र में 40 वर्षीय पत्रकार चक्रेश जैन की जलने से संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। शाहगढ़ जनपद पंचायत के सहायक विस्तार अधिकारी (एडीओ) अमन चाैधरी व अन्य पर उसे जिंदा जलाकर मारने का आराेप है। दोनों के बीच पहले से ही एससी -एसटी एक्ट के तहत मामला कोर्ट में चल रहा है। जिस पर जल्द ही फ़ैसला आने वाला था। बुधवार की सुबह एडीओ अमन चौधरी खुद 20 प्रतिशत जली हुई हालत में चक्रेश जैन के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज़ कराने थाने पहुँचे थे, लेकिन थोड़ी ही देर बाद अमरमऊ के पास एक झाेपड़ी में 90 फीसदी से ज्यादा जली हुई हालत में पत्रकार जैन मरणासन्न हालत में मिले, तब पत्रकार चक्रेश जैन को अस्पताल ले जाया गया, अस्पताल पहुँचने के बाद पत्रकार ने दम तोड़ दिया। दोनों पक्ष के लोगों के जले हुये अवस्था में मिलने से इस पूरे मामले में नया माेड़ आ गया। सागर एसपी अमित सांघी का कहना है कि दाेनाें पक्ष के लाेग झुलसे हुए मिले हैं। मृ’तक के परिजनाें के आराेपाें पर इस पूरे मामले की जांच कराई जा रही है। जाे भी साक्ष्य-सबूत मिलेंगे उसके आधार पर केस दर्ज करेंगे।
पत्रकार चक्रेश के भाई ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि जब चक्रेश जिंदा थे तब मौके पर डॉक्टर और पुलिस मौजूद थे लेकिन पुलिस ने उस वक्त पत्रकार के बयान नहीं लिए गये। इस घटना के बाद शाहगढ़ के पत्रकाराें ने एसपी काे ज्ञापन साैंपकर आराेपियाें के खिलाफ ह’त्या का केस दर्ज करने की मांग की है।