ईरान पर आर्थिक प्रतिबंधों को लेकर वैश्विक रिपोर्ट जारी, भारत में तेल आपूर्ति करा सकेगा सऊदी अरब

New Delhi: दुनिया का सबसे बड़ा तेल आयातक देश सऊदी अरब की ओर से भारत को अतिरिक्त 4 मिलियन बैरल तेल का निर्यात किया जा सकता है, इस मामले में दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच द्वीपक्षीय बातचीत जारी है। सऊदी अरब का यद कदम ना सिर्फ भारत को अमेरिकी प्रतिबंधों में राहत प्रदान करेगा बल्कि उचित दामों पर भारत को तेल की आपूर्ति भी सुनिश्चित करवा सकता है।

जानकारी के लिए बता दें कि भारत को ईरान का तीसरा सबस बड़ा तेल आयातक देश बताया जाता है, इस सूची में पहले नंबर पर चीन का नाम शामिल है। वहीं, अमेरिका द्वारा ईरान पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंध 4 नवंबर से प्रभावी हो जाएंगे, जिसके कारण ईरान के रिफाइनर्स ने संकेत दिया है कि जल्द अन्य आयातक भी ईरान से तेल आयात बंद कर देंगे।

इन परिस्थितियों में ईरान से तेल मंगवाने वाली भारतीय कंपनियों ने कोई जवाब नहीं दिया है। या फिर ये भी कह सकते हैं कि भारतीय कंपनियां प्रतिबंधों के कारण उन पर आने वाली समस्या को देखते हुए  कोई टिप्पणी नहीं करना चाहतीं। इसी कारण तेल आपूर्ति के दूसरे विकल्प के भारत के ही मित्र देश सऊदी अरब का नाम सामने आ रहा है।

जाहिर है कि भारत का यह कदम ईरान पर से तेल आपूर्ति की निर्भरता को कम कर सकता है। लेकिन फिलहाल भारतीय रिफाइनर्स के सामने बढ़ते जा रहे ईरानी क्रूड ऑइल की चिंताएं दीवार बनकर खड़ी हैं। जिसके कारण वे लगातार भारतीय सरकार पर अमेरिका से राहत हासिल करने के लिए दवाब बनाए जा रहे हैं। फिलहाल, अमेरिकी प्रतिबंधों को नजरअंदाज करते हुए भारतीय रिफाइनर्स ने ईरान को 9 मिलियन बैरल तेल का ऑर्डर कर दिया है।

The post ईरान पर आर्थिक प्रतिबंधों को लेकर वैश्विक रिपोर्ट जारी, भारत में तेल आपूर्ति करा सकेगा सऊदी अरब appeared first on Live Desh.