नेतन्याहू की पत्नी ने मोदी को गले लगाने के लिए बढ़ाया अपना हाथ, देखिए फिर पीएम ने क्या किया

नेतन्याहू की पत्नी ने मोदी को गले लगाने के लिए बढ़ाया अपना हाथ, देखिए फिर पीएम ने क्या किया

By: Rohit Solanki
January 14, 14:01
0
New Delhi: इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू अपनी पत्नी सारा नेतन्याहू के साथ अपनी 6 दिवसीय भारत यात्रा पर दिल्ली पहुंच चुके हैं।

पीएम मोदी प्रोटोकॉल तोड़ खुद अपने दोस्त का स्वागत करने पालम एयरपोर्ट पहुंचे थे। दोपहर करीब 1.30 बजे नेतन्याहू के विमान ने पालम एयरपोर्ट पर लैंडिंग की। 

नेतन्याहू के विमान से नीचे उतरते ही पीएम नरेंद्र मोदी ने पूरी गर्मजोशी के साथ उन्हें गले लगा लिया। दोनों नेताओं ने इसके बाद एक साथ हाथ उठाकर दोनों देशों की दोस्ती का संकेत दिया। एयरपोर्ट से नेतन्याहू और पीएम नरेंद्र मोदी तीन मूर्ति के लिए रवाना हुए हैं। हालांकि इस दौरान एक ऐसा वाक्या हुआ जिस पर बहुत ही कम लोगों की नजर गई। 

दरअसल, नेतन्याहू को गले लगाने के बाद पीएम मोदी सारा नेतन्याहू से मुलाकात करने के लिए आगे बढ़े। तभी सारा नेतन्याहू ने मोदी को गले लगाने के लिए अपना हाथ आगे बढ़ाया। लेकिन पीएम मोदी ने भारतीय संस्कृति का परिचय देते हुए उन्हें गले नहीं लगाया। हालांकि, मोदी ने गर्मजोशी से सारा नेतन्याहू से हाथ मिलाया और थोड़ी देर बातचीत की। इसके बाद बेंजामिन नेतन्याहू और मोदी ने एक साथ अपने हाथ उठाकर दोनों  देशों की गहरी दोस्ती का संकते दिया। 

आपको बता दें कि बीते 15 साल में यह पहला ऐसा मौका है, जब इजरायल का कोई प्रधानमंत्री भारत के दौरे पर आया है। उनसे पहले 2003 में पूर्व इजरायली पीएम एरियल शेरोन भारत आए थे। भारत और इजरायल के कूटनीतिक संबंधों के हाल ही में 25 वर्ष पूरे हुए हैं। अपने 6 दिनों के भारत दौरे में नेतन्याहू दिल्ली के अलावा हैदराबाद, अहमदाबाद और आगरा भी जाएंगे। 

बता दें कि इससे पहले भी अहम विदेशी मेहमानों को पीएम नरेंद्र मोदी अहमदाबाद के रिवर फ्रंट पर ले जाते रहे हैं। चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और जापान के शिंजो आबे को पीएम नरेंद्र मोदी अहमदाबाद घुमाने ले गए थे। बता दें कि बीते साल जुलाई में पीएम नरेंद्र मोदी इजरायल के दौरे पर गए थे। उस दौरान उन्हें अपना बेहद करीबी दोस्त बताने वाले नेतन्याहू ने पीएम मोदी का बेहद गर्मजोशी के साथ स्वागत किया था। 

नेतन्याहू के इस दौरे में डिफेंस, ऐग्रिकल्चर और वॉटर मैनेजमेंट से जुड़े कई अहम समझौते हो सकते हैं। भारत में इजरायली राजदूत डेनियल कारमन ने कहा कि इस दौरे में इनोवेशन सबसे अहम अजेंडा रह सकता है। हाल ही में मीडिया से बातचीत करते हुए कारमन ने कहा था कि ऐग्रिकल्चर और वॉटर के क्षेत्र में सहयोग को लेकर करार हो सकते हैं। पिछले साल जुलाई में पीएम मोदी के इजरायल दौरे के वक्त भी जल प्रबंधन टॉप अजेंडे पर था।
 

देखिए वीडियो
 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।