स्वतंत्रता दिवस पर 10 लाख भूखे बच्चें को खाना खिलाएगी 'रॉबिन हुड आर्मी',आप भी कर सकते हैं मदद

स्वतंत्रता दिवस पर 10 लाख भूखे बच्चें को खाना खिलाएगी 'रॉबिन हुड आर्मी',आप भी कर सकते हैं मदद

By: Madhu Sagar
August 13, 11:08
0
New Delhi:

आजादी के 70 साल पूरे होने के बाद भी लोग भूखमरी का शिकार हो रहे हैं।ऐसे लोगों की मदद के लिए शहर में एक ऐसी आर्मी है जो इसके खिलाफ जंग लड़ रही हैं।आज की युवा पीढ़ी रॉबिनहुड आर्मी से मिलकर खाली समय में ऐसे लोगों की मदद करती है।यह मानवता की सबसे बड़ी मिसाल है, आज के समय में लोग धर्म, राजनीति और खुद के स्वार्थ को लेकर लड़ने पर व्यस्त रहते है, मगर इन सबके बीच ऐसे भी लोग है, जिन्हे दो वक्त का खाना मिल जाए वहीं बड़ी बात है।

आपको बता दें इस आर्मी मल्टी नेशनल कंपनियों के 50 से ज्यादा यंग प्रोफेशनल्स इससे जुड़े हैं। आज़ादी की इस सालगिरह पर ये आर्मी ज़रूरतमंदों को खाना खिलाएगी। रॉबिनहुड आर्मी के मेम्बर्स होटल्स में बचा खाना सड़कों पर भूखे सोने वाले लोगों में बांटेंगे। ऐसी ही आर्मी दूसरे शहरों में भी काम करती है। 15 अगस्त पर देशभर के 41 शहर में में 10 लाख से ज्यादा लोगों को खाना खिलाएंगे। 

15 अगस्त को रॉबिन हुड आर्मी शहर के चार सेंटर्स से फूड डिस्ट्रिब्यूट करेंगे। विजय नगर, भंवरकुआ, एयरपोर्ट और अन्नपूर्णा सेंटर पर इन क्षेत्रों की होटल्स से बचा हुआ खाना कलेक्ट और डिस्ट्रीब्यूट करेंगे। फूड आयटम्स में पूड़ी, सब्ज़ी, पुलाव, पोहे, पेस्ट्रीज़, और स्नैक्स होंगे। 

रॉबिनहुड आर्मी के मेम्बर्स के मुताबिक आज़ादी के 70 सालों बाद भी कई लोग भूखे सोते हैं और वहीं दूसरी ओर होटलों में बड़ी मात्रा में खाना फेंका जाता है। रॉबिनहुड आर्मी ने इन दोनों के बीच की दूरी को खत्म करने का प्रयास किया है। हम रेस्तरां और होटल्स से बचा खाना कलेक्ट करते हैं और उन्हें ज़रूरतमंद लोगों तक पहुंचाते हैं। नवंबर 2015 से अब तक सिर्फ इंदौर में हम 75,000 ज़रूरतमंदों को खाना खिला चुके हैं। 

आजादी की वर्षगांठ पर होने वाले इस अभियान का बेसिक एजेंडा है कि इस नेशनल हंगर प्रोग्राम के जरिये लोगों में जागरूकता बढ़ाई जा सके और लोग राष्ट्रीयता, धर्म, आस्था से परे इस अभियान में सड़को पर जुट सके। जिसके तहत भोजन को अनाथ आश्रम, वृद्धाश्रम, गृहहीन लोगों में बांटा जाएगा। यह अभियान रॉबिनहुड वोलिएंटर्स के जरिये पूरा किया जाएगा।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

comments
No Comments