गूगल का इस्तेमाल करने वालों के लिए बुरी खबर, अचानक बंद हुए Google के ये 7 प्रोडक्ट

गूगल का इस्तेमाल करने वालों के लिए बुरी खबर, अचानक बंद हुए Google के ये 7 प्रोडक्ट

By: Rohit Solanki
January 13, 14:01
0
New Delhi: इंटरनेट की दुनिया में गूगल आज दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में गिनी जाती है।

लगातार सफलता की सीढ़ीयां चलने वाले गूगल के बारे में भले ही ये आम धारणा है कि गूगल जो भी प्रोडक्ट लेकर आएगा वो बेमिसाल होगा, लेकिन क्या आपको पता है कि इस सफलता के पीछे असफलताएं भी हैं? जी हां, गूगल के सारे प्रोडक्ट सफल नहीं हुए, इन्हीं में से हम आज आपको कुछ ऐसे प्रोडक्ट के बारे में बता रहे हैं, जो पिछले साल या तो बंद हो चुके हैं या फिर मार्च तक बंद हो जाएंगे।

प्रोजेक्ट टैंगो : गूगल का ऑगमेंटेड रिऐलिटी प्रॉजेक्ट टैंगो बंद करके इसकी जगह पर नया ARCore शुरू किया जा रहा है। 1 मार्च को इसे आधिकारिक रूप से बंद कर दिया जाएगा।

Spaces: गूगल का मेसेजिंग ऐप Spaces 2016 में शुरू किया गया था लेकिन इसे अब बंद कर दिया गया है। इसकी जगह पिछले साल गूगल ने नया एप मार्केट में उतारा था जिसे Google Duo नाम दिया गया।

क्रोम एप्स : दुनिया भर में लोग इस वक्त सबसे ज्यादा गूगल क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल करते हैं। एंड्रायड के प्ले स्टोर की तर्ज पर गूगल ने क्रोम के लिए खासतौर पर क्रोम एप्स बनाया था, जिसे अब बंद किया जा चुका है।

जीटॉक : गूगल ने चैटिंग के लिए अपना यह ऐप 2005 में शुरू किया गया था, जिसे बाद में हैंगआउट ने रिप्लेस कर दिया और GTalk को बंद कर दिया गया।

Google Captcha: मार्च 2017 में गूगल ने अपने सिक्यॉरिटी फीचर गूगल कैप्चा को बंद कर दिया। इसे इंसानों और रोबॉट्स में फर्क करने के लिए इस्तेमाल किया जाता था।

Titan Drone Project: गूगल ने 2014 में ड्रोन सर्विस Titan drone project शुरू कर दी थी, लेकिन बाद में आर्थिक समस्याएं बताकर इसे भी बंद कर दिया गया।

साइट सर्च : फरवरी 2017 में गूगल ने अपने साइट सर्चिंग फीचर गूगल साइट सर्च को बंद कर दिया है। फिलहाल कई यूजर्स इसे इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन 1 अप्रैल 2018 से इसे पूरी तरह से बंद कर दिया जाएगा।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।