लोकसभा अध्यक्ष के साथ कोर्डिनेट करके यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने लिया कड़ा फैसला, पैरेंटस को राहत

UP : मंत्री और विधायकों की सैलरी में 30 फीसदी की कटौती, एक साल के लिए विधायक निधि खत्म

New Delhi : PM Modi सरकार की तर्ज पर यूपी में CM Yogi Adityanath ने भी मंत्री और सभी विधायकों की सैलरी में 30 प्रतिशत कटौती करने का फैसला लिया है। बुधवार देर शाम वीडियो कांफ्रेंसिंग से हुई कैबिनेट बैठक में योगी सरकार ने फैसला लिया है कि विधायकों को मिलने वाली विधायक निधि को एक साल के लिए सस्पेंड किया जाएगा । कटौती से मिले पैसे को कोरोना आपदा फंड में डाला जाएगा।

noida के सेक्टर 8 स्थित झुग्गी में पड़तान से पहले की तैयारी


महत्वपूर्ण फैसले : MLA FUND को 1 साल के लिए ससपेंड किया गया। 2020-21 की विधायक निधि का इस्तेमाल कोरोना से लड़ने में किया जाएगा। मंत्रियों के वेतन में 30 फीसदी की कटौती का प्रस्ताव पर मुहर। विधायकों के वेतन में भी 30 फीसदी की कटौती। आपदा निधि 1951 में बदलाव किया गया। अब तक आपदा निधि में 600 करोड़ की राशि थी जिसे अब बढ़ा कर 1200 करोड़ किया गया है।
कैबिनेट बैठक के पहले यूपी सरकार ने 15 जिलों के हॉटस्पॉट को पूरी तरह से सील करने का आदेश जारी किया है। हॉटस्पॉट वाले इलाकों में दूध, राशन जैसी सभी जरूरत वाली दुकानें भी बंद रहेंगी। सभी आवश्यक चीजों को जिला प्रशासन मुहैया कराएगा। इन मोहल्लों में पड़ने वाले बैंक भी बंद रहेंगे। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि यहां लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन कराया जाएगा। आगरा में 22, गाजियाबाद में 13, लखनऊ, कानपुर और नोएडा में 12, वाराणसी, महाराजगंज और सहारनपुर में 4, बस्ती, बुलंदशहर, फिरोजाबाद और शामली में 3, सीतापुर में 1 हॉट स्पॉट चिह्नित किए गए हैं जो 14 अप्रैल तक सील रहेंगे।
लॉकडाउन के कारण यूपी सरकार पर भी खर्च का भार बढ़ गया है। इसीलिये मुख्यमंत्री ने कोविड फंड भी बनाया है और अतिरिक्त फंड जुटाने के लिए नए रास्ते तलाशे जा रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मोदी सरकार द्वारा सांसद निधि कुछ समय के लिए स्थगित करने व वेतन से 30 प्रतिशत साल भर तक काटने के निर्णय का स्वागत किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty five − = 16