ट्रंप ने कोरोना को कहा चीनी प्लेग, बोले-नई ट्रेड डील साइन की, उसकी स्याही भी नहीं सूखी कि ये आ गया

New Delhi : अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में एक बार फिर चीन पर निशाना साधा है। ट्रंप ने इस बार कोरोना वायरस को चीन का प्‍लेग बताया है। इससे पहले भी अमेरिकी राष्‍ट्रपति कई मंचों पर कोरोना वायरस को दुनियाभर में फैलाने के लिए चीन को दोषी ठहरा चुके हैं। हालांकि, चीन हर बार इन आरोपों को सिरे से खारिज करता आया है, उल्‍टा राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग अमेरिका पर ही कोरोना वायरस को फैलाने का दोषी बताता है।

ट्रंप ने चीन पर निशाना साधते हुए कहा- यह (कोरोना वायरस) चीन का प्लेग है, इसे होना ही नहीं चाहिए था, लेकिन उन्होंने इसे होने दिया। हमने नई ट्रेड डील साइन की थी, उसकी स्याही भी नहीं सूखी थी कि यह (कोरोना) आ गया। वहीं, ट्रंप ने व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव कायले मैकनेनी के हवाले से कहा – पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई घटना से चीनी कम्युनिस्ट पार्टी का असली चेहरा सामने आ गया है। अमेरिका मौजूदा स्थिति पर बारीकी से निगरानी कर रहा है और इसके शांतिपूर्ण समाधान का समर्थन करता है।
मालूम हो कि इससे पहले भी ट्रंप ने कई मंचों पर कोरोना वायरस को दुनियाभर में फैलाने के लिए चीन को दोषी ठहराया है। इसे वे कई मौके पर चीनी वायरस बोलते रहे हैं। हालांकि, चीन अमेरिका के इस आरोप से शुरू से इंकार करता रहा है। उल्‍टा राष्‍ट्रपति शी चिनफिंग अमेरिका को ही कोरोना वायरस को फैलाने का दोषी बताते हैं। ट्रंप ने चाइना सरकार पर ये भी आरोप लगाया था कि ये कोरोना वायरस चाइना की लैब में तैयार किया गया और अमेरिका समेत अन्‍य देशों में इस वायरस को साजिश के तहत फैलाया ताकि इस महामारी से लड़ते हुए संपन्‍न देशों की आर्थिक स्थिति प्रभावित हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ thirty five = thirty six