लाखों में सिर्फ एक बुद्धिमान व्यक्ति ही निकाल सकता है बचने का रास्ता, क्या आप निकाल सकते हैं

लाखों में सिर्फ एक बुद्धिमान व्यक्ति ही निकाल सकता है बचने का रास्ता, क्या आप निकाल सकते हैं

By: Ravi Raj
January 13, 14:01
0
New Delhi : जिंदगी जितनी हसीन है, उसमें उतनी ही मुश्किलें भी हैं, लेकिन मुश्किलों से पार पाकर जो खुशी इंसान को होती है।

उससे बढ़कर कोई और खुशी दुनिया में नहीं होती। लोगों के सामने हमेशा कुछ न कुछ मुसीबत बनी रहती है। ऐसे में जब भी इंसान इनका समाधान निकालता है तो ये उसकी बुद्धिमानी का परिचायक होता है। क्योंकि जब विषम परिस्थितियां आती है, तो बुद्धि शून्य हो जाती है। ऐसे में धैर्य और बुद्धिमत्ता को जो परिचय देता है वहीं विपत्ति के समय में विजय पाता है।

बचपन में स्कूलों में एक पाठ पढ़ाया जाता था। दो घनिष्ट दोस्त जंगल से गुजरते हुए जा रहे थे। अचानक उन्हें सामने से आता भालू दिखा। जान बचाने के लिए एक दोस्त पेड़ पर चढ़ गया। लेकिन दूसरे को पेड़ पर चढ़ना आता नहीं था, इसलिए उसने अपनी सांसें रोकीं और जमीन पर लेट गया। क्योंकि दोस्त को पता था कि भालू मरे हुए और शवों को नहीं खाता है। इससे उसकी जान बच गई।

 
दरअसल नदी किनारे एक आदमी खड़ा था तभी अचानक एक शेर आ गया। आदमी नदी में कूदने वाला था की। तभी उसे दो दो मगरमच्छ दिखाई दे गए, ऐसे में अब उसके पास कोई रास्ता नहीं बचा। उसने आव देखा न ताव पेड़ पर चढ़ गया। अभी बीच पेड़ पर वो पहुंचा ही था की सामने डाली पर एक विषैला सांप दिखाई दिया।

अब वो बीच में अटक गया। लेकिन अच्छी बात ये हैं कि पेड़ के नीचे एक बंदूक पड़ी है। जिसे अगर वो उठा ले तो बंदूक से गोली चलाकर वो शेर से बच सकता था। अब सवाल ये खड़ा हो गया है कि वो व्यक्ति न तो ऊपर जा सकता है, और न ही नीचे बंदूक उठाने की स्थित में है। ऐसे में क्या करे की उसकी जान बच जाए। क्योंकि पानी में भी मगरमच्छ हैं।

इस तस्वीर की पहेली को आप में से लाखों में एक के पास ही उत्तर है। अब देखना है। कौन है वो बुद्धिमान जो इसका उत्तर खोज निकालने में कामयाब हो पाएगा। दिमाग पर जोर लगाइए, बुद्धि दौड़ाइए… अगर आप इसका सही जवाब ढूंढ सके तो यकीन मानिए कितनी भी बड़ी मुसीबत आए, जीत हमेशा आपकी ही होगी।

सही जवाब ये हैं आपका क्या है ईमानदारी से मिलाइए।


 


आदमी सांप से बस थोड़ी ही दूरी पर है। अगर वह एक झटके में सांप को पकड़कर बिना एक भी सेकंड रुके तेजी से उसको शेर पर फेंक दे, तो शेर अचानक हुए हमले से एक बार को घबड़ाकर पीछे हट सकता है और उसका ध्यान दूसरी तरफ बंट सकता है। इसी बीच वह नीचे कूदकर बंदूक उठा सकता है।

दूसरा जवाब ये है कि पेड़ की दूसरी डाली को तोड़कर सांप को मारा जा सकता है। उसके बाद शेर को सांप के जरिए ध्यान भंग करने में कामयाबी मिल सकती है। साथ ही बंदूक उठाकर किसी भी स्थिति का सामना किया जा सकता है। या फिर सांप को मारने के बाद शेर के सोने का इंतजार करे क्योंकि शेर एक आलसी जानवर है और उसको नींद भी ज्यादा आती है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।