जब निहत्थे भारतीय फौजियों ने उठा-उठाकर पटके अंग्रेज सैनिक, लोग बोले-ये है आर्मी की असली ताकत

जब निहत्थे भारतीय फौजियों ने उठा-उठाकर पटके अंग्रेज सैनिक, लोग बोले-ये है आर्मी की असली ताकत

By: Rohit Solanki
December 07, 19:12
0
New Delhi: राजस्थान में भारत और ब्रिटिश सेना के बीच चल रहे 14 दिवसीय सैन्य अभ्यास अजेय वॉरियर 2017 में आज अनोखा नजारा देखने को मिला।

दरअसल, आज भारतीय सेना और ब्रिटिश सेना संयुक्त अभ्यास के दौरान महाजन फील्ड फायरिंग रेंज पहुंची। यहां भारतीय सैनिक और ब्रििटश सैनिकों ने जूडो-कराटे, मार्शल आर्ट्स के साथ-साथ कुश्ती में भी हाथ आजमाया।

मैं हूं लंदन का मेयर सादिक खान, जलियांवाला बाग कांड पर शर्मिंदा हूं.. ब्रिटिश सरकार मांगे माफी
 

कुछ इस तरह उठा-उठाकर पटके गए ब्रिटिश फौजी

जूडो और मार्शल आर्ट्स में ब्रिटिश सैनिकों ने भले ही अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन कुश्ती में हर बार बाजी भारतीय जवानों ने ही मारी। भारतीय जवानों ने इस दौरान कई अंग्रेज अफसरों को बार-बार धूल चटाई। इसके बाद भारतीय और ब्रिटिश सेनाओं ने मिलकर चिकित्सकीय सहायता का भी प्रशिक्षण लिया।

राजस्थान के रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष ओझा ने बताया कि अजेय वारियर 2017 में आज भारत और ब्रिटिश सैनिकों ने निहत्थे होने पर युद्ध लड़ने के गुर और लड़ाई में घायल होने पर लोगों को दिए जाने वाले इलाज के बारे में भी प्रशिक्षण दिया गया। 

राफेल का मुकाबला नहीं कर पाएगा कोई भी पाकिस्तानी फाइटर, 2000 KM की रफ्तार बनाती है सबसे घातक
 

युद्धाभ्यास में हिस्सा लेते भारतीय और ब्रिटिश सैनिक

कर्नल ओझा के मुताबिक, दोनों देशों के सैनिकों ने नई तकनीक सीखने में काफी उत्साह दिखाया। इस प्रशिक्षण के बाद सैनिकों में बिना हथियार के अचानक उपजी परिस्थिति में फंसने पर उससे निकलने में सक्षम होने का विश्वास जागा है। इसके अलावा इमरजेंसी में मेडिकल सुविधा देने के लिए भी ये जवान तैयार हैं। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।