डॉक्टर से पड़ोसी बोला- गेट आउट तुमको कोरोना हो गया, डॉक्टर ने कहा- मैं काम करूंगी, फर्ज से पीछे नहीं हटूंगी

New Delhi : गुजरात में एक महिला डॉक्टर से बदसलूकी का मामला चर्चा में है। सूरत के सिविल अस्पताल में काम करने वाली डॉ. संजीवनी से उनके पड़ोसी चेतन मेहता और उसकी पत्नी भावना मेहता ने बदसलूकी की। उन्हें घर छोड़कर जाने के लिए भी धमकाया। डॉक्टर ने इसका वीडियो बनाकर पुलिस कमिश्नर से शिकायत की है। डॉ. संजीवनी ने कहा- मैं अपना काम करती रहूंगी और फर्ज निभाने से कभी भी पीछे नहीं हटूंगी।
कुछ दिन पहले मैंने पुलिस को शिकायत कर कहा था कि पड़ोसी परेशान कर रहे हैं। एक ने मुझसे पूछा- तुम अस्पताल में काम करती हो। कहीं तुम्हें भी वायरस का संक्रमण तो नहीं हो गया है। मैंने इसका कोई जवाब नहीं दिया। इस बात से वे लोग भड़क गए। रविवार को मैं घर पहुंची, तो पड़ोसी चेतन और उसकी पत्नी बाहर ही खड़े थे। मेरे घर में डॉगी है। उसे देखकर भावना भड़क गई। चिल्लाकर आस-पास के लोगों को इकठ्ठा कर लिया और बोली कि कुत्ता काट रहा है। अटैक कर रहा है। तभी चेतन ने मुझे गाली देनी शुरू कर दी और धक्का दे दिया। धमकी देते हुए कहा यह सब नहीं चलेगा। तुझे यहां रहना है कि नहीं। इस दुर्व्यवहार के बाद डॉ. संजीवनी ने कहा- मैं कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रही हूं, क्या यह मेरी गलती है। उन्होंने पीएमओ को ट्वीट कर अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। पुलिस ने उन्हें आश्वासन दिया है कि अब उनके साथ कोई ऐसा व्यवहार नहीं करेगा।
महिला डॉक्टर के साथ हुई बदसलूकी के वीडियो में भी पड़ोसी की धमकी मौजूद है। डॉक्टर के पड़ोसी चेतन ने उनसे कहा- गेट आउट। डॉक्टर है तो क्या हुआ? जानती नहीं मुझे। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। गुजरात में कुछ दिन पहले ही सिविल अस्पताल के मेडिकल ऑफिसर डॉ. ओमकार के. से पुलिस कर्मी ने मारपीट की थी। वे घर से ड्यूटी के लिए निकले थे। इसी बीच पुलिसकर्मी ने उन्हें रोककर बदतमीजी की और फिर उनके साथ मारपीट की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

61 − fifty seven =