पिता ने खुद को सुशांत का उत्तराधिकारी घोषित किया, कहा- सुशांत के नाम पर कुछ भी मत करो

New Delhi : एकता कपूर के पवित्र फंड के जरिये मार्केट से मेंटल इलनेस के नाम पर हो रही चंदा वसूली को लेकर सुशांत सिंह राजपूत का परिवार सक्रिय हो गया है। सुशांत के पिता केके सिंह ने आज खुद को अपने बेटे का उत्तराधिकारी घोषित करते हुये कहा है कि कोई भी व्यक्ति सुशांत के नाम का गलत इस्तेमाल करके बयान या कोई काम न शुरू करें। एक दिन पहले ही सुशांत की बहन श्वेता कीर्ति के पति ने कहा था कि सुशांत के नाम का गलत इस्तेमाल करनेवाले के खिलाफ कानूनन नोटिस जारी किया जायेगा।

दरअसल बालाजी प्रोडक्शन की कर्ताधर्ता और पवित्र रिश्ता शो में सुशांत को ब्रेक देनेवाली एकता कपूर ने पवित्र फंड अभियान शुरू किया है। जिसका आधार है मेंटल इलनेस से परेशान लोगों की मदद करना। इसमें चैरिटी के तहत चंदा भी लिया जा रहा है। हालांकि एकता कपूर ने जुलाई में ही इसकी शुरुआत की थी लेकिन दो दिन पहले जैसे ही सुशांत की तस्वीर के साथ पवित्र फंड के पोस्ट वायरल हुये तो सुशांत सिंह राजपूत के परिजन सतर्क हो गये।
आश्चर्य की बात तो यह है कि आज तक अपने आपको सुशांत का अच्छा दोस्त बता रही एकता कपूर ने पोस्टर पर सुशांत की तस्वीर का इस्तेमाल कर यह साबित कर दिया है कि वह भी मूवी माफिया की बेगुनाही साबित करने की होड़ में शामिल हैं और सुशांत को बेवजह मेंटली बीमार साबित करने में जुट गईं हैं। हालांकि सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद एकता ने पवित्र रिश्ता फंड से अपने आपको अलग कर लिया है।

बहरहाल सुशांत के पिता केके सिंह ने कहा है- वे ही अपने बेटे के कानूनी उत्तराधिकारी हैं। सुशांत ने अपने जीवन में जिन वकीलों, चार्टर्ड अकाउंटेंट्स और प्रोफेशनल्स को रखा था, उनकी सेवाएं ले रखी थीं, वे अब खत्म होती हैं। वे सुशांत के बारे में कुछ भी बताने के अधिकारी नहीं हैं। अगर कोई भी ऐसा करता है तो उसे पहले मेरी मंजूरी लेनी होगी। सुशांत के परिवार में अब मैं और उसकी बहनें ही शामिल हैं।
वैसे केके सिंह के इस बयान को उन वकीलों के बयान से भी जोड़कर देखा जा रहा है जिन्होंने मीडिया में जाकर कहा कि उन्हें सुशांत ने हायर किया था। केके सिंह ने कहा कि इन वकीलों ने मीडिया में कथित रूप से सुशांत के साथ हुई बातचीत के बारे में बताया। बार काउंसिल ऑफ इंडिया और इंडियन एविडेंस एक्ट के नियमों के मुताबिक ऐसा नहीं किया जा सकता है।

उन्होंने यह भी कहा- सुशांत के परिवार में केवल मैं और उसकी बहनें ही शामिल हैं। हमने वरुण सिंह को अपना वकील नियुक्त किया था और उनके जरिये वरिष्ठ वकील विकास सिंह हमारे परिवार को रिप्रेजेंट करेंगे। अगर कोई और भी परिवार का सदस्य होने के दावा करता है तो मैं इसे मंजूरी नहीं देता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventy seven − = sixty seven