राजमिस्त्री के युवराज ने जीता 1 करोड़, बोला- अमिताभ बच्चन के एक रिट्वीट ने मेरी दुनिया बदल दी

New Delhi : टिकटॉक पर बने डांस के एक वीडियो के बॉलीवुड के मेगा स्टार अमिताभ बच्चन के रिट्वीट करने से सुर्खियों में आये जोधपुर के स्ट्रीट डांसर युवराज को लॉकडाउन के दौरान शुरू हुये रिएलिटी शो एंटरटेनमेंट नंबर वन का विजेता घोषित किया गया है। शो के होस्ट वरुण धवन ने रविवार रात उन्हें विजेता घोषित किया। विजेता के रूप में उन्हें अब एक करोड़ रुपये की इनामी रकम मिलेगी। युवराज ने कहा कि अमिताभ के रिट्वीट ने मेरी किस्मत बदल दी। जोधपुर के एक साधारण परिवार के युवराज ने अपने मकान की छत पर बगैर किसी कोचिंग के डांस करना सीखा। उनका डांस देख हर कोई उनका मुरीद हो जाता है।

लॉकडाउन के दौरान रिएलिटी शो एंटरटेनमेंट नंबर वन शुरू किया गया था। फिल्म स्टार वरुण धवन इसके होस्ट थे। उन्हीं की सोच पर लॉकडाउन के दौरान ही ये शो बनाया गया और इसका मकसद रखा गया, लॉकडाउन के दौरान घर में रहकर अपने हुनर का प्रदर्शन। किसी काम से अयोध्या गये युवराज लॉकडाउन के दौरान फंस गये थे। इस बीच यह शो शुरू हो गया। युवराज वहीं से अपने वीडियो बनाकर शो के लिए भेजते रहे। वरुण ने युवराज का नाम घोषित करते हुए बताया कि आठों सप्ताह तक वह टॉप पर रहा। वरुण ने कहा कि वे चाहकर भी फिलहाल युवराज को बधाई देने उन तक नहीं पहुंच पा रहे हैं।

इस साल की शुरुआत में युवराज ने टिकटॉक पर एक डांस का वीडियो बनाया था। इस वीडियो ने मेगा स्टार अमिताभ बच्चन का दिल जीत लिया। अमिताभ ने इसे वॉव लिख रीट्वीट कर दिया। उनका यह रिट्वीट युवराज को रातों रात सुर्खियों में ले आया और वे सोशल मीडिया पर छा गये। 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले युवराज के पिता टाइल्स लगाने का काम करते हैं। दो बहनों समेत तीन बच्चों के इस परिवार का गुजारा भी मुश्किल से चलता है। पावटा क्षेत्र में रहने वाले युवराज की ख्वाहिश एक बॉक्सर बनने की थी, लेकिन परिवार के हालात देखकर उन्होंने इरादा बदल लिया। माइकल जैक्सन, टाइगर श्राफ और प्रभु देवा की डांसिंग के फैन रहे युवराज ने उन्हीं की तर्ज पर डांस सीखना शुरू कर दिया।

 

युवराज ने मकान की छत और कमरे में घंटों अभ्यास कर अपनी प्रतिभा को निखारा। इसमें उनका साथ दिया बहन हर्षिता ने। भाई के साथ हर्षिता भी डांस सीख गई। बगैर किसी गुरू के महज 6 माह तक लगातार अभ्यास के बाद युवराज ने माइकल जैक्सन के अंदाज में डांस करने की कला सीख ली। युवराज आज जोधपुर में नहीं है। वह इस प्रतियोगिता से जुड़ी कुछ औपचारिकता पूरी करने के लिए दिल्ली में है। युवराज की मां और बहन बेहद खुश हैं और पहला पुरस्कार मिलने का पता लगते ही खुशी से झूम उठी। उन्होंने कहा – हमारे मन की मुराद पूरी हो गई। लेकिन अभी युवराज को कई मुकाम हासिल करने के लिए लगातार मेहनत करनी होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

twenty seven + = 35