बर्फानी बाबा के दर्शन पर आतंकी साया- कश्मीर के 100 आतंकी यात्रा को निशाना बनाने की फिराक में

New Delhi : कश्मीर के हताश आतंकी अब श्रीबाबा अमरनाथ की प्रस्तावित वार्षिक तीर्थयात्रा-2020 में श्रद्धालुओं को निशान बनाने की फिराक में हैं। दक्षिण कश्मीर में इस समय भी 25-30 विदेशी आतंकियों समेत करीब 100 आतंकी सक्रिय हैं। यह खुलासा दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में सेना के सेक्टर कमांडर 9आरआर ब्रिगेडियर वीएस ठाकुर और डीआइजी दक्षिण कश्मीर रेंज अतुल कुमार गोयल ने प्रेस कान्फ्रेन्स में किया।

आज कुलगाम के नागनाड़ इलाके में जैश-ए-मोहम्मद के पाकिस्तानी आतंकी वलीद भाई समेत तीन आतंकियों को मार गिराने के बाद पत्रकारों से बातचीत में सेक्टर कमांडर वीएस ठाकुर ने बताया – हमारे पास लगातार सूचनायें मिल रही हैं कि आतंकी श्री अमरनाथ की पवित्र गुफा की वार्षिक तीर्थयात्रा के दौरान कोई बड़ा हमला अंजाम देने की साजिश रच रहे हैं। वे हाइवे पर भी तीर्थयात्रा पर हमला कर सकते हैं। हाइवे और सभी आधार शिविरों की सुरक्षा व्यवस्था का उचित प्रबंध किया गया है। दक्षिण कश्मीर के विभिन्न हिस्सों और हाइवे की सुरक्षा का लगातार आंकलन करते हुए उसे और बेहतर बना रहे हैं। यात्रामार्ग के आसपास के इलाकों में लगातार आतंकियों के खिलाफ तलाशी अभियान चलाये जा रहे हैं।
श्री अमरनाथ की वार्षिक तीर्थयात्रा इस साल 21 जुलाई को शुरु हो सकती है। सड़क के रास्ते आने वाले श्रद्धालुओं को कुलगाम, काजीगुंड, बीजबेहाड़ा, अनंतनाग, पहलगाम के रास्ते ही चंदनबाड़ी पहुंचना होता है। इसके अलावा बालटाल के रास्ते पवित्र गुफा जाने वाले श्रद्धालु अगर सड़क के रास्ते आयेंगे तो उन्हें दक्षिण कश्मीर में श्रीनगर-जम्मू हाइवे पर काजीगुंड-खन्नाबल-बीजबेहाड़-पांपोर सेक्शन से गुजरना पड़ेगा।
दक्षिण कश्मीर में आतंकियों की संख्या के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा – इसका कोई पक्का आंकड़ा नहीं है। इस समय दक्षिण कश्मीर में 100 के आतंकी सक्रिय हैं। इनमें करीब 30 विदेशी आतंकी हैं। स्थानीय युवकों की आतकी संगठनों में भर्ती में कमी का दावा करते हुये कमांडर ने कहा- यह पूरी तरह समाप्त नहीं हुई है, लेकिन इसमें बहुत ज्यादा कमी आयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− three = 1