कभी मेसी-रोनाल्डो जैसा बनने का सपना देखता था माजिद, अब बन गया लश्कर-ए-तैयबा का अबु इस्माइल

कभी मेसी-रोनाल्डो जैसा बनने का सपना देखता था माजिद, अब बन गया लश्कर-ए-तैयबा का अबु इस्माइल

By: Adill Malik
November 14, 13:11
0
New Delhi : कश्मीर घाटी में फुटबॉल खेलते हुए बड़ा हुआ 20 साल का माजिद खान अब लश्कर-ए-तैयबा का अबु इस्माइल बन गया है।

कश्मीर का ये उभरता हुआ सितारा मेसी और रोनाल्डो जैसा बनने का सपने देखा करता था, खेल के मैदान में आने से पहले गुमराह होकर आतंकी बन गया है। माजिद के इस फैसले से उसके परिवारवालों से लेकर रिश्तेदार और करीबी दोस्त सदमे में हैं। माजिद ने अपनी ग्रेजुएशन अनंतनाग के सरकारी डिग्री कॉलेज की। सादिकाबाद के रहने वाले माजिद का दोस्त यावर नासिर पहले ही जुलाई में हिजबुल मुजाहिद्दीन के साथ जुड़ चुका है।

संगठन में शामिल होने के सिर्फ 15 दिनों के अंदर यावर एक एनकाउंटर में मारा गया था। माजिद खान की सोशल मीडिया पर पिछले दिनों एक पिक्चर भी वायरल हुई जिसमें वह AK-47 पकड़े खड़ा था। उनकी इस बेहद चौंकाने वाली पिक्चर के बाद ही लोग समझ गए कि अब माजिद फुटबॉलर नहीं बल्कि लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य बन गया है। आपको बताते चलें कि लश्कर से जुड़ने से पहले माजिद एक समाजसेवी संस्था के साथ काम करता था।

समाज कल्याण से जुड़े कम करने वाली इस संस्था में माजिद एक कार्यकर्ता के तौर पर जुड़ा था, जिसमें में उसे इमर्जेंसी हेड की भूमिका मिला। अनंतनाग के एसएसपी अल्ताफ अहमद खान का कहना है कि माजिद अपने हमउम्र साथियों से प्रभावित हो गया। उसके कुछ साथी कुछ समय पहले ही आतंकी संगठनों से जुड़े हैं। खान ने आगे कहा, पुलिस के लिए युवाओं का कट्टरपंथी ताकतों के प्रति झुकाव और आतंकी संगठन में शामिल होना चिंता का विषय है। 

माजिद ने अपनी एक फेसबुक पोस्ट पर लिखा था, 'सितारों की तरफ क्यों देखना जब एक ज्यादा बड़ा सितारा यहां है।' वहीं माजिद के एक रिश्तेदार ने कहा, 'वह बहुत प्रतिभाशाली बच्चा है। हम बस यही दुआ करते हैं कि एक रोज वह सुरक्षित वापस लौट आएगा।' 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।