संबित पात्रा बोले- मुंबई में सरकार रो “रिया” है, जल्द ही सुनेंगे महाराष्ट्र सरकार जा “रिया” है

New Delhi : सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत प्रकरण की जांच सीबीआई से कराने का आदेश दिया है। इस आदेश के बाद राजनेताओं के बीच बयानबाजी का दौर भी शुरू हो गया है। फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भाजपा नेता काफी एग्रेसिव मोड में आ गये हैं। इसका सबूत दिया भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने। उन्होंने फनी लाइन्स की मदद से ट‍्वीट कर दिया कि जल्द ही महाराष्ट्र की सरकार गिर सकती है। हांलाकि इस पर कोई नेता तो संबित से सवाल जवाब करने नहीं आया लेकिन जर्नलिस्ट राजदीप सरदेसाई जरूर पक्षकार बनकर भिड़ गये।

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने पहला ट‍्वीट किया- SHIV SENA = SONIA + RHEA = SORHEA SENA (सोरिया सेना माने ऐसी सेना जो सो रही हो)। इसके बाद उन्होंने दूसरा ट्वीट किया- पहले महाराष्ट्र सरकार सो “रिया” था, फिर संजय राउत सुशांत परिवार को धो “रिया” था, अब मुंबई में सरकार रो “रिया” है, दोस्तों जल्दी ही सुनेंगे महाराष्ट्र सरकार जा “रिया” है। उनके इस ट‍्वीट के बाद राजदीप सरदेसाई ने लिखा कि ऐसी खबरें आ रही हैं कि महाराष्ट्र में वर्तमान राज्य सरकार की विदाई हो सकती है, आगे आगे देखिये होता है क्या। इसके जवाब में संबित पात्रा ने कहा- सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शिवसेना और एनसीपी के नेताओं के बीच अलग अलग बयानबाजी हो रही है। ऐसी रार में तो सरकार जायेगी ही।

इस पर राजदीप ने कहा- इतना तो मुझे समझ में आ गया है सुप्रीम कोर्ट के आदेश से कि दाल में कुछ काला है। जिसका जवाब संबित पात्रा ने जोरदार ढंग से दिया- दाल तो काली थी ही …तभी तो SC ने CBI को जाँच करने का आदेश दिया है ..मगर आप ये बात कहाँ समझ रहें थे ..कल तो आप विकास सिंह जी पर media trial का इल्ज़ाम लगा रहें थे …@sardesairajdeep भाई दाल देखने में आप ने बहुत देर लगा दी।

इधर सुप्रीम कोर्ट ने आज बुधवार 19 अगस्त को 35 पेजों में इस आशय का आदेश जारी किया। इस आदेश के आने के बाद बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा – यह न्याय की जीत है। रिया चक्रवर्ती या उनके परिवार की यह औकात नहीं है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कुछ बोल सकें। नीतीश कुमार के सपोर्ट से ही सुशांत के परिवार वालों को न्याय मिलने की उम्मीद जगी है। रिया ने सुप्रीम कोर्ट में दायर पीटिशन में कहा था- सुशांत केस को बढ़ा-चढ़ाकर दिखाया जा रहा है। इसकी वजह बिहार चुनाव हैं। बिहार के मुख्यमंत्री ने खुद एफआईआर दर्ज कराने में दिलचस्पी दिखाई है।

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने मीडिया के पूछे गये सवालों का जवाब देते हुये कहा- यह साबित हो गया कि बिहार पुलिस सही काम कर रही थी। बिहार पुलिस की जांच के दौरान मुंबई पुलिस ने क्या किया, यह सबने देखा। देश की 130 करोड़ जनता सुशांत को इंसाफ दिलाने के लिये लड़ाई लड़ रही है। सुप्रीम कोर्ट के फैसले से सभी लोग खुश हैं। सुप्रीम कोर्ट के फैसले से लोगों के मन में उम्मीद जगी है कि सुशांत सिंह के मामले में न्याय होगा। यह पूरे देश के लिए बहुत बड़ी बात है। पूरा देश सुप्रीम कोर्ट की तरफ टकटकी लगाए देख रहा था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirty seven − = 36