रिया ने बताई लव-हेट स्टोरी- 6 जून तक मैं सुशांत के साथ ही रह रही थी फिर उसने कहा मुझे फ्री करो

New Delhi : सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती ने पुलिस को बताया – मैं छह जून तक सुशांत के साथ ही रह रही थी लेकिन 6 जून को सुशांत ने कहा घर से चली जाओ। वो मेरे साथ रहना नहीं चाह रहा था। न मुझसे कोई परेशानी शेयर कर रहा था। मैं भी क्या करती। मैं 6 जून को वह फ्लैट छोड़कर चली आई इस उम्मीद के साथ कि शायद कुछ दिनों में सबकुछ ठीक हो जाये। लेकिन ऐसा हुआ नहीं और 14 जून को मनहूस खबर मिली। मुम्बई पुलिस ने गुरुवार 18 जून को रिया चक्रवर्ती से करीब 11 घंटे की पूछताछ की। बांद्रा पुलिस स्टेशन में बैठाकर पूछताछ की।

रिया ने पुलिस के सामने कई अहम खुलासे किये हैं। रिया ने पुलिस को बताया – मेरी और सुशांत की मुलाकात साल 2013 में हुई था। उस वक्त वह ‘शुद्ध देसी रोमांस’ फिल्म कर रहे थे। तब रिया ‘अपने डैड की मारूति’ फिल्म में काम कर रही थीं। दोनों फिल्मों के सेट आसपास थे। रिया और सुशांत पहली बार मिले थे। इसके बाद रिया और सुशांत कई पार्टियों में मिले और उनकी दोस्ती हो गई।
रिया और सुशांत ने एक-दूसरे के नंबर लिये और मुलाकातों का दौर चलता रहा। रिया ने पुलिस को बताया – उस वक्त सुशांत पहले से ही रिलेशनशिप में थे। हालांकि वह रिया के टच में भी थे। रिया बताती – वह और सुशांत 2017-18 के दौरान एक प्रॉडक्शन हाउस से अलग हुये और अलग-अलग बैनर के साथ काम करना तय किया। इसके बाद दोनों रिलेशनशिप में आ गये।
रिया ने पुलिस को बताया कि सुशांत अंदर ही अंदर किसी परेशानी से जूझ रहे थे लेकिन किसी से कुछ शेयर नहीं करते थे। ज्यादा परेशान होने पर वह एकांत में चले जाते थे। या फिर पुणे में पावना में फार्म हाउस पर चले जाते थे। उनका डिप्रेशन बढ़ने लगा तो वह डॉक्टर के पास गये। वहां उनकी दवाएं शुरू की गईं लेकिन बीते कुछ दिनों से सुशांत ने दवाएं छोड़ दी थीं।

रिया ने पुलिस को बताया – 6 जून को सुशांत डिप्रेशन में थे और उन्होंने मुझसे कहा कि मुझे अकेला छोड़कर चली जाओ। मैं सुशांत की स्थिति को देखते हुये बिना कुछ पूछे उन्हें अकेला छोड़कर चली गईं। उन्हें लगा कि कुछ दिनों में शायद सब ठीक हो जाएगा और उन्हें कुछ दिन अकेले सोचने का मौका देना चाहिये। बहरहाल मुम्बई पुलिस को अब भी लग रहा है कि रिया कई ऐसी जानकारियां हैं जो छिपा रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighty seven + = eighty eight