किम जोंग की धमकी ने दी तीसरे विश्वयुद्ध की आहट, जापान और रूस ने भी उ. कोरिया पर तानी मिसाइलें

किम जोंग की धमकी ने दी तीसरे विश्वयुद्ध की आहट, जापान और रूस ने भी उ. कोरिया पर तानी मिसाइलें

By: Rohit Solanki
August 11, 22:08
0
.

New Delhi: उत्‍तर कोरिया द्वारा अमेरिका को दी गई धमकी के बाद अब जापान भी उसको जवाब देने के लिए तैयारी कर रहा है। दोनों देशाें के बीच तनाव को देखते हुए जापान ने साफ कर दिया है कि  उनका देश अमेरिका प्रशांत क्षेत्र स्थित ग्वाम की ओर जाने वाली उत्तर कोरियाई मिसाइल को नष्ट कर देगा।

जापानी रक्षा मंत्री इत्सूनोरी ओनोडेरा ने संसद के निचले सदन की एक समिति को इसकी जानकारी देते हुए बताया है कि अमेरिकी प्रशांत क्षेत्र स्थित ग्वाम द्वीप की ओर जाने वाली मिसाइल से अगर जापान को खतरा महसूस हुआ तो वह उसे पूरी तरह नष्ट कर देगा। उन्‍होंने साफ किया है कि सरकार का मानना है कि जापान को अपनी सुरक्षा के संबंध में हर आवश्यक कदम उठाने का अधिकार है। उनका ये बयान ऐसे समय में आया है जब उत्तर कोरिया की ओर से अगस्त मध्य तक अमेरिकी द्वीप ग्वाम पर हमला करने का भड़काऊ बयान दिया गया है। इतना ही नहीं उत्‍तर कोरिया ने इस हमले के लिए अपना प्‍लान तक सार्वजनिक कर दिया है।

इतना ही नहीं इस धमकी के बाद अमेरिका और जापान ने एक ज्‍वाइंट मिलिट्री एक्‍सरसाइज को भी शुरू कर दिया है। यह एक्‍सरसाइज करीब एक सप्‍ताह तक चलने वाली है। उत्‍तर कोरिया की धमकी का असर जापान के लोगों पर अब दिखाई देने लगा है। यही वहज है कि वहां की एक स्‍थानीय कंपनी ने हमले की सूरत में बचने के इक्‍यूमेंट सप्‍लाई को तीन गुणा बढ़ा दिया है। इसमें बचाव के लिए इमरजेंसी बंकर भी शामिल हैं। जापान के लोग अब बचने के इन्‍हें खरीदने पर भी विचार कर रहे हैं।

 उत्‍तर कोरिया की धमकी को देखते हुए रूस ने अपने मिसाइल रक्षा तंत्र (डिफेंस सिस्टम) को हाई अलर्ट पर रख दिया है जिससे इंटर-कॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल या अन्य बैलेस्टिक मिसाइल के हमले को बीच में ही ध्वस्त किया जा सकेगा। रूसी संसद के ऊपरी सदन के एक सदस्य विक्टर ओजेरॉव इसकी जानकारी देते हुए कहा है कि वायुसेना और हवाई क्षेत्र सुरक्षा बलों को फार ईस्ट इलाके में मुस्तैद किया गया है।

इस बीच रूस में सरकारी समाचार एजेंसी आरआईए ने भी इसकी जानकारी दी है। दूसरी ओर चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि अगर अमेरिका के खिलाफ उत्तर कोरिया हमला करता है तो चीन को तटस्थ रहना चाहिए। हालांकि अखबार ने ये भी कहा है कि अगर अमेरिका और दक्षिण कोरिया सत्ता परिवर्तन के इरादे से उत्तर कोरिया पर हमला करता है तो चीन को चुप नहीं रहना चाहिए। अखबार के मुताबिक यदि ऐसा होता है चीन को इस तरह के हमले को रोकने के लिए कदम उठाने चाहिए।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।