कानों पे जिम्मेदारी- सब अपना फर्ज बख़ूबी निभा रहे हैं, फिर आप मास्क क्यों नहीं लगा रहे हैं?

New Delhi : मिलेनियम स्टार अमिताभ बच्चन को कोरोना हो गया है। उन्हें नानावटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने ट्वीट कर अपने कोरोना पॉजेटिव होने की जानकारी दी। उनमें कोरोना के लक्षण पाये गये, जिसके बाद उनकी जांच कराई गई और उन्हें कोरोना पॉजेटिव पाया गया। अभिषेक बच्चन को भी कोरोना पॉजेटिव पाया गया है। देर रात ऐश्वर्या राय बच्चन और जया बच्चन की रिपोर्ट निगेटिव आई।

उन्हें उसी कोरोना ने अपनी चपेट में ले लिया जिससे बचने के लिये वे लगातार जनजागरण अभियान चलाये जा रहे थे। कुछ दिनों पहले ही बिग बी लगातार अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिये लोगों को कोरोना के प्रति जागरुक कर रहे थे। उन्होंने पिछले हफ्ते ही एक नये अभियान ‘कानों पे जिम्मेदारी’ की शुरुआत की थी, जिसका उद्देश्य लोगों को मास्क लगाने के लिये प्रेरित करना है।
बिग बी ने वीडियो के कैप्शन में कविता लिखी थी, जो इस प्रकार है:-
कमला के कानों पर, विमला के कानों पर,
शर्मा के कानों पर, मिश्रा के कानों पर,
छुटभैये के कानों पर, बाहुबली के कानों पर,
रायपुर के रोमियो के, जबलपुर की जूलिएट के
अड़ोसी-पड़ोसी के, मामा-मौसी के,
चाची और ताई के, भतीजी और भाई के,
नाई के हलवाई के, एक दो और ढाई के,
सब के कानों पे एक जिम्मेदारी है,
और वो जब जब घर से बाहर जा रहे हैं,
उसे बख़ूबी निभा रहे हैं,
फिर आप मास्क क्यों नहीं लगा रहे हैं?
जनहित में जारी,
कानों पे जिम्मेदारी।।

View this post on Instagram

कमला के कानों पर, विमला के कानों पर, शर्मा के कानों पर , मिश्रा के कानों पर, छुटभैये के कानों पर, बाहुबली के कानों पर , रायपुर के Romeo के, जबलपुर की Juliet के अड़ोसी पड़ोसी के, मामा मौसी के, चाची और ताई के, भतीजी और भाई के, नाई के हलवाई के, एक दो और ढाई के, सब के कानों पे एक ज़िम्मेदारी है, और वो जब जब घर से बाहर जा रहे हैं, उसे बख़ूबी निभा रहे हैं , फिर आप mask क्यूँ नहीं लगा रहे हैं ? जनहित में जारी, कानों पे ज़िम्मेदारी ।।

A post shared by Amitabh Bachchan (@amitabhbachchan) on

बिग बी ने एक अन्य पोस्ट में अपनी इस कविता का ग्राफिक भी साझा किया था, जो हिंदी के साथ रोमन में भी थी। कैप्शन में उन्होंने लिखा था- देवियों और सज्जनों, लेडीज एंड जेंटलमैन, ख्वातीन-ओ-हजरात, जिम्मेदारी कानों की अपनी, सुन लीजिए बात, सुन लेंगे ये बात तो हमारी लाज बनी रह जाएगी, नहीं तो कमला, विमला हमका दौड़-दौड़कर फटकायेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventy six + = eighty two