भारतीय कंपनियां कोरोना टेस्टिंग किट बनाने में में भी आगे बढ़ना चाह रही हैं।

रिलायंस-सीएसआईआर ने मिलकर तैयार किया कोरोना टेस्ट किट, 90 रुपये खर्च, 30 मिनट में रिजल्ट

New Delhi : सीएसआईआर और रिलायंस ने संयुक्त रूप से एक आरटी-लैंप टेस्ट को विकसित किया है। इससे मात्र 30 मिनट में कोरोना जांच की रिपोर्ट आ जायेगी। इसकी लागत भी केवल 90 रुपये ही होगी। इसका नैदानिक परीक्षण शुरू किया गया है और इसके सफल रहने के बाद आईसीएमआर से मंजूरी ली जायेगी। यह आरटीपीसीआर जैसा ही टेस्ट होता है, जो वायरस की पहचान करता है।
कोरोना वायरस की जांच की गति को और तेज करने के लिए जल्द ही एक नया टेस्ट देश में उपलब्ध होगा। सीएसआईआर की जम्मू स्थित प्रयोगशाला इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंटीग्रेटिव मेडिसिन के निदेशक राम विश्वकर्मा ने बताया – रिलायंस के साथ मिलकर यह टेस्ट किट विकसित किया जा चुका है।
उन्होंने कहा – सभी मंजूरियां मिलने के बाद इसे बड़े पैमाने पर बाजार में उतारने की योजना है। ताकि जल्द ही मौके पर ही कोरोना की जांच हो जाये। मौजूदा आरटीपीसीआर टेस्ट करने के लिये मशीनों की जरूरत होती है, जिसकी कीमत 15 लाख रुपये है। इसमें मशीन की जरूरत नहीं होती है बल्कि आरएनए टेंपलेट इस्तेमाल किया जाता है।
आरटी लैंप टेस्ट से तीस मिनट में नतीजा मिलता है और एक टेस्ट की लागत 90 रुपये के करीब आयेगी। इसका फायदा यह है कि इसे रेलवे स्टेशन, हवाई अड्डों, अस्पतालों, क्लीनिकों में इस्तेमाल किया जा सकता है। मौके पर ही जांच की जा सकती है। नमूने कहीं ले जाने की जरूरत नहीं पड़ती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirty one + = 34