एक गद्दे ने रातों-रात चमका दी इस भिखारी की किस्मत, बैठे-बिठाए बन गया 40 लाख का मालिक

एक गद्दे ने रातों-रात चमका दी इस भिखारी की किस्मत, बैठे-बिठाए बन गया 40 लाख का मालिक

By: Ruby Sarta
November 14, 17:11
0
NEW DELHI: उत्तराखंड को देवभूमि कहा जाता है इसलिए अगर यहां चमत्कार हो जाए तो इसमें किसी को संदेह नहीं होना चाहिए। दरअसल एक भिखारी चंद मिनटों में लखपति बन गया।  अब आप सोच रहे होंगे कि उस भिखारी ने चोरी की होगी।

लेकिन अब जो सच्चाई हम आपको बताने जा रहे हैं, वो पढ़कर आपके मन में एक ही ख्याल तो ज़रूर आएगा कि दिन हर किसी के फिरते हैं। भगवान हर किसी के साथ इंसाफ करता है। असल में पिता की गैर मौजूदगी में बेटे ने एक गद्दा भिखारी को दे दिया। इसके बाद जब पिता घर वापस आए तो उन्हें पता चला कि गद्दा तो भिखारी ले गया फिर उन्होंने घर में सभी को उस रकम के बारे में जानकार दी जो उन्होंने गद्दे में छुपा रखे थे। 

रकम के बारे में जानते ही पूरा परिवार सदमे में आ गया। ऐसा बताया जा रहा है कि गद्दे में पिता ने 40  लाख रुपये रखे थे, जिसे उनके सुपुत्र ने भिखारी को दे दिया। पिता के घर आने पर सभी को पैसों के बारे में पता चला और अब तीन दिन से पिता-पुत्र पूरे शहर में गद्दे ले जाने वाले भिखारी की तलाश में भटक रहे हैं। क्या है पूरा मामला आईये जानते हैं।

गद्दे में रखे थे 40 लाख

तीन दिन पहले का यह मामला है। शिवालिक नगर का रहने वाला एक युवक श्मशान घाट के पास दरिंद्र भंजन पहुंचा। उस युवक ने मंदिर के बाहर बैठे एक भिखारी को गद्दा दान दे दिया। भिखारी के मना करने के बावजूद उसने वह गद्दा उसे दे दिया। आख़िर में भिखारी वह गद्दा लेकर वहां से चला गया। शाम के समय जब युवक का पिता घर आया तो उसने देखा गद्दा कहीं नहीं है। वह परेशान होकर गद्दा ढूंढने लगा। जब पिता ने पुत्र से पूछा तो उसने बताया कि गद्दा ख़राब था इसलिए उसने वह गद्दा भिखारी को दे दिया है। यह सुनकर पिता हक्का-बक्का रह गया और उसमें 40 लाख रुपये रखे होने कि बात बताई।

भिखारी ने गद्दा दूसरे भिखारी को दे दिया
यह सुनकर बाप-बेटे भागते-भागते मंदिर पहुंचे। दोनों की जान में जान आई जब उन्होंने देखा कि भिखारी वहीं बैठा हुआ है। लेकिन उन्हें यह नहीं पता था कि उनकी मुश्किल और बढ़ गई है। भिखारी से गद्दे के बारे में पूछने पर पता चला कि उसने वह गद्दा किसी दूसरे भिखारी को दे दिया है। यही कहलाता है किस्मत का खेल। जो जिसके नसीब में था उसके पास पहुंच गया।


भिखारी की तलाश में बाप-बेटे ने पूरा शहर छान डाला पर वह भिखारी अब तक उन्हें मिला नहीं है। पिछले तीन दिन से उनकी तलाश जारी है। पूरे क्षेत्र में इसी मामले की चर्चा है। हालांकि अब तक पुलिस में भी इस मामले की कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।