प्रभाष ने 4 करोड़, कपिल शर्मा ने 50 लाख और 800 करोड़ के मालिक धौनी ने 1 लाख डोनेट किया

New Delhi : Team India में जगह बनाने की जद्दोजहद में जुटे Mahendra Singh Dhoni ने चिंदीचोरी की हाइट ही कर दी। अरबपति धौनी ने कोरोना संक्रमण आपदा के लिये 1 लाख रुपये का दान दिया है। कहां तो बाहुबलि फेम प्रभाष ने 4 करोड दिये। टीवी के मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा ने भी 50 लाख रुपये दान दिये।
लेकिन धौनी ने पुणे की एक संस्था के माध्यम से 1 लाख की मदद की। अब फैन्स उन्हें ट्रॉल कर रहे हैं। करें भी क्यों नहीं ? लिस्ट देखिये दान करनेवालों की और प्रोफाइल देखिये दान करनेवालों की। यहां एक मामूली सी सिंगर दो लाख का दान देती है तो अक्षरा सिंह जैसे छोटेमोटे नाम भी 2 से 4 लाख खर्च कर दे रहे हैं।


धौनी ने पुणे की एक संस्था को 1 लाख रुपए दान किया, यह संस्था पुणे के दिहाड़ी मजदूरों को खाना प्रदान कर रही हैं। इस संस्था ने साढ़े 12 लाख रुपए एकत्रित करने का लक्ष्य रखा था और वे 12 लाख रुपए एकत्रित कर चुके हैं। सबसे ज्यादा 1 लाख रुपए की मदद महेंद्रसिंह धोनी ने की हैं। बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कोरोना वायरस के कहर के बीच 50 लाख रुपए का चावल जरूरतमंदों को प्रदान करने की घोषणा की है। इसी तरह वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियन पीवी सिंधु ने इस मामले में 10 लाख रुपए की मदद की है। करीब 800 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक महेंद्र सिंह धौनी ने जब 1 लाख रुपए की मदद की घोषणा की तो उन्हें ट्रोल किया जाने लगा।


एक फैन ने लिखा, ‘धोनी की कुल संपत्ति 800 करोड़ की है लेकिन उन्होंने मात्र 1 लाख रुपए का दान दिया है। ऐसा कहते हैं कि आपके पास जितना ज्यादा धन आता है, आप उतने ही कंजूस होते जाते हो। दक्षिण भारतीय हीरोज को सेल्यूट।’ एक फैन ने लिखा, ‘मैं महेंद्रसिंह धोनी का फैन हूं लेकिन उन्होंने सिर्फ 1 लाख रुपए का दान दिया इस बात से मैं भी दुखी हूं।’
एक फैन ने लिखा, धोनी ने COVID-19 लॉकडाउन में 100 परिवारों की 14 दिनों तक मदद के लिए 1 लाख रुपए दिया। इस तरह उन्होंने एक खाने के लिए 23 रुपए प्रदान किए। एक फैन ने लिखा कि 12वीं क्लास के एक छात्र ने 2.5 लाख रुपए की मदद की जबकि भारत के सबसे अमीर क्रिकेटरों में से एक धोनी ने मात्र 1 लाख रुपए दिए।
इधर स्टार ऑलराउंडर Hardiak Pandya दिखावे के चक्कर में लोगों की नज़र पर चढ़ गये हैं। अभी तक कोरोना आपदा में परेशान ज़रूरतमंदों के लिये तो उन्होंने फूटी कौड़ी नहीं दी लेकिन एक करोड़ की घड़ी पहन कर चमकाने लगे।


दरअसल दो दिन पहले ही हार्दिक के बड़े भाई और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर क्रुणाल पंड्या का जन्मदिन था। हार्दिक ने अपने टि्वटर अकाउंट से क्रुणाल को जन्मदिन की बधाई देते हुए तस्वीर पोस्ट की। जब पूरा देश कोरोना की मार झेल रहा है, तो हार्दिक पंड्या अपनी नासमझी से प्रशंसकों के निशाने पर आ गए।
इस फ़ोटो में हार्दिक पांड्या ने 18 कैरेट येलो गोल्ड केस में “रोलेक्स डायटोना येलो गोल्ड कॉस्मोग्राफ 40” घड़ी पहनकर बड़े भाई को जन्मदिन की बधाई दी थी।उनके फ़ैन्स को जैसे ही फ़ोटो में पहनी गई घड़ी और उसकी क़ीमत का पताचला सब उन्हें नसीहत देने लगे। एक फ़ैन ने कहा – घरों पर रहने की इनकी अपील दिखावा भर है, ये तो अपनी अमीरी दिखाने में लगे हैं।
इस रोलेक्स की घड़ी की कीमत है एक करोड़, एक लाख और पच्चीस हजार रुपये। लॉकडाउन के समय भी ये करीब सवा करोड़ रुपये की घड़ी घर में पहनकर बधाई दे रहे हैं। फ़ैन्स खिंचाई कर रहे हैं – सवा करोड़ रुपये की घड़ी पहन रहे हैं हार्दिक पंड्या, लेकिन अभी तक कोरोनावायरस प्रभावितों की मदद को एक रुपया तक नहीं दिया है। आखिर ये कैसे देश के हीरो हैं।

इधर सचिन तेंदुलकर ने कोरोना वायरस से जंग में 50 लाख रुपये की सहायता की है। विश्व क्रिकेट के लगभग सभी बड़े रिकॉर्ड्स अपने नाम करने वाले तेंदुलकर ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री राहत कोष में 25 लाख तो मुख्यमंत्री राहत कोष में भी इतने ही रुपये दान किए।
कई सामाजिक संस्थाओं और चैरिटी से जुड़ें तेंदुलकर केंद्र और राज्य सरकार दोनों की ही मदद करना चाहते थे। सचिन के अलावा इस जानलेवा महामारी के खिलाफ आगे आने वाले खिलाड़ियों में पठान बंधुओं का भी नाम प्रमुख है। इरफान और यूसुफ ने बड़ौदा पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को 4000 फेस मास्क दान किए हैं, जबकि महेंद्र सिंह धोनी ने पुणे स्थित एक एनजीओ के माध्यम से 1 लाख रुपये का योगदान दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven + 3 =