सुशांत को न्याय दिलाने को पूरी दुनिया में मुहिम, कैलिर्फोनिया में लगे ‘जस्टिस फॉर सुशांत’ के पोस्टर

New Delhi : सुशांत सिंह राजपूत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने शुक्रवार को कैलिफोर्निया में एक बिलबोर्ड की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर किया। इसमें लिखा है- #Justice For सुशांत सिंह राजपूत 1986-2020। श्वेता ने इस बात पर खुशी जताई कि दुनिया भर के लोग अब सुशांत और हमें न्याय दिलाने की मुहिम में भाग ले रहे हैं। श्वेता ने जिस मॉल के बाहर यह बिलबोर्ड लगा है उसका पूरा उल्लेख किया है। इस मामले में फिलहान उनकी गर्लफ्रेंड एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती पर शिकंजा कस गया है।

कल प्रवर्तन निदेशालय ने करीब 8 घंटे तक रिया से पूछताछ की। बता दें कि सुशांत प्रकरण में बिहार सरकार ने एक्ट्रेस और सुशांत की गर्लफ्रेंड रिया पर पैसा हड़पने की नीयत से ज्यादा दवा देने का आरोप लगाया है। बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दायर कर कहा है- सुशांत की बीमारी की झूठी तस्वीर तैयार कर उसे दवाई दी जाती थी। हलफनामा में रिया चक्रवर्ती पर किये गये केस को स्थानांतरित करने की याचिका का विरोध किया गया है।
कोर्ट में बिहार सरकार ने अपने हलफनामे में रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के सदस्यों पर सुशांत सिंह राजपूत के पैसे हड़पने की साजिश रचने और रुपये के लिये ही उससे संपर्क बढ़ाने को एकमात्र मकसद बताया है। एसएसपी उपेंद्र शर्मा की ओर से दायर इस हलफनामे में कहा गया है – साजिश के तहत सुशांत की बीमारी की झूठी तस्वीर तैयार की गई। मुंबई पुलिस के असहयोग के बावजूद बिहार पुलिस को जांच में कई सुराग हाथ लगे हैं। अगर सीबीआई जांच करेगी तो कई अहम बातों का खुलासा होगा।
चक्रवर्ती ने न्यायालय में याचिका दायर करके बिहार पुलिस द्वारा दर्ज मामले को स्थानांतरित कर मुंबई पुलिस को सौंपे जाने का अनुरोध किया था। इस याचिका पर अगले सप्ताह सुनवाई होगी। चक्रवर्ती ने अदालत में दी अपनी याचिका में कहा था कि वह राजपूत के साथ लिव-इन रिलेशन में थीं। इधर ऐसी संभावना है कि प्रवर्तन निदेशालय पीएमएलए के तहत चक्रवर्ती का बयान दर्ज करेगी। ईडी के सवाल चक्रवर्ती के आय, निवेश, कारोबारी लेन-देन और पेशेवर करारों और संपर्कों से जुड़े हैं।

एजेंसी राजपूत के चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए) संदीप श्रीधर से और उनके गृह प्रबंधक और कर्मचारी सैमुअल मिरांडा से दो बार पूछताछ कर चुकी है। राजपूत के पिता ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि मिरांडा को चक्रवर्ती ने उनके बेटे द्वारा भर्ती किये गये कर्मचारी को हटाकर नौकरी पर रखा था। निदेशालय चक्रवर्ती के चार्टर्ड अकाउंटेंट रितेश शाह को भी पूछताछ के लिए तलब कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighty one + = 83