एक ऐसा गांव जहां 5 दिनों के लिए पति पत्नी बन जाते हैं अनजान

  • 12 Jan, 2017
  • Suneet Singh

LIVE NEWS: आज हमारा देश एक तरफ तो हर रोज तरक्की के नए मुकाम हासिल करने में लगा है तो वहीं दूसरी ओर समाज में ऐसे कई समुदाय ऐसे मिलेंगे जो अंधविश्वास में रुढि़वादी परंपराओं को निभा रहे हैं।

देश में कई ऐसे गांव है जो रुढि़वादी परंपराओं के नाम पर कुछ किसी भी हद को पार करने के लिए तैयार मिलेंगे। ऐसा ही एक गांव हिमाचल प्रदेश में है, जहां परंपराओं के नाम पर पति -पत्नि से कई चीजें कराई जाती है। जिसके बारे में जानकर शायद आप भी हैरान रह जाएंगे। 
प्रदेश के कुल्लू में पीणी गांव है। जहां हर साल एक ऐसे रिवाज को निभाया जाता है, जिसमें पति-पत्नी पांच दिनों तक एक दूसरे से हंसी-मजाक भी नहीं कर सकते हैं। साथ ही दोनों एक - दूसरे से बिल्कुल अनजानों की तरह एक दूसरे से व्यवहार करते हैं। 
पूर्वजों के समय से  मनाए जाने वाले इस परंपरा सबसे हैरान करने वाली बात यह कि पीणी गांव में परंपराओं के नाम पर महिलाएं 5 दिनों तक काफी बारीक कपड़े पहनती हैं। साथ ही कोई महिला अगर इसे मानने से इंकार करती है तो कथित तौर पर उसके घर कुछ अनहोनी घटना हो जाती है। 
गांव के लोगों के मुताबिक, इस गांव में अगस्त के महीने में पांच दिनों के लिए काला महीना मनाया जाता है। क्योंकि लाहुआ घोंड देवता जब पीणी पहुंचे थे तो वहां राक्षसों का आतंक था। और इसी भादो संक्रांति यानि काला महीना के दिन देवता ने पीणी में पांव रखते ही राक्षसों का विनाश कर दिया था। 
फिर उसी दिन से  इस देव परंपरा की शुरूआत हो गई और आज भी इसे मनाया जाता है। जिसके अनुसार यहां का हर जोड़ा भादो संक्रांति के 5 दिनों के लिए एक -दूसरे से अनजान बनकर अजीबो-गरीब काम करते हैं। 
 .

Leave A comment