ये तकनीक अपनाएं, 30 Second में नींद को अपने पास बुलाएं....

  • 11 Jan, 2017
  • Ritu

NEW DELHI: क्‍या रात में आपकी नींद बार-बार टूटती है। बिस्तर पर लेटने के बावजूद कितनी ही देर आपको सपनों की दुनिया में खोने का चांस नहीं मिलता। और अगर नींद आ भी जाए, तो यह गहरी नहीं होती।

 तो परेशान न हो क्‍योंकि हम आपके लिए लाये है, एक ऐसी मास्‍टर तकनीक जिसको अपनाकर आप सिर्फ आधे मिनट यानी कि 30 सेकंड में सो सकते हैं। आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से इस तकनीक के बारे में विस्‍तार से जानें। 
हमारे शरीर के लिए जितना जरूरी आहार होता है, दिमाग के लिए उससे कहीं अधिक जरूरी नींद होती है, जो इंसान भरपूर नींद लेता है उसका मानसिक विकास भी उतना ही अच्छा होता है। लेकिन आजकल नींद न आने के कारण ज्यादातर लोग परेशान रहते हैं। अनिद्रा की बीमारी किसी को भी और किसी भी उम्र में हो सकती है। नींद आने पर लोग दवाइयों का सहारा लेने लगते हैं लेकिन यह गलत है क्‍योंकि शुरूआत में तो दवाइयों से नींद आने लगती है।
लेकिन जब दवाइयों की आदत पड़ जाये तो दवा का असर दिखाना बंद हो जाता है। ऐसे में अधिक मात्रा में दवा ली जाती है जो स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाती है। अगर आप भी ऐसे ही लोगों में से एक हैं और आपने अपने जीवन की कई रातें बिना नींद लिए बिताई हैं और आपको उन लोगों से जलन महसूस होती है जो बिस्‍तर पर लेटते ही सो जाते हैं, तो 30 सेकंड में नींद लाने वाली यह तकनीक आपके लिए बहुत उपयोगी हो सकती है। 
आधे मिनट में सोने वाली तकनीक
30 सेकंड के इस ट्रिक में आप अपने दिमाग को 30 सेकंड के अंदर सोने के लिए प्रशिक्षित करते हैं। ये बहुत ही कारगर ट्रिक है जिसकी मदद से आप अपनी अनिद्रा की समस्‍या को दूर कर सकते हैं साथ ही स्वास्थ्य को होने वाले नुकसानों से बचा सकते हैं। इस प्रक्रिया को करने के लिए इन बातों का ध्यान रखें।
इस प्रक्रिया को आप अपने आराम के अनुसार कभी भी और कहीं भी कर सकते हैं। 
इसके लिए आपको किसी उपकरण की भी आवश्यकता नहीं है। 
तकनीक को करने के लिए आपको सबसे पहले हुश आवाज करते हुए मुंह से सांस छोड़ना है। 
और फिर मुंह बंद करके नाक से धीरे-धीरे सांस लेना है। 
अपनी सांसों को सात गिनने तक रोकें। 
अब आठ गिनने तक मुंह से सांस छोड़ते रहें। 
फिर से सांस लें। 
सिर्फ चार सांसों के लिए इस चक्र को तीन बार दोहरायें।
यह जल्‍दी नींद लाने वाली सबसे अच्‍छी तकनीक है, लेकिन इसे करते समय आपको सिर्फ इतना ध्यान रखना है कि यह सही अनुपात हो और गहरी सांसे लें और छोड़ें। इस तकनीक को करने से हार्ट रेट की दर कम होती है और दिमाग भी शांत होता है। इससे आप 30 सेकंड में ही शांत होकर सो जाते हैं। 
तकनीक से पहले क्या करें
आपके लिए जरूरी है कि इस तकनीक को आजमाने से एक हफ्ते पहले ही अपने आहार में से चाय, कॉफी, चॉकलेट, कोल्‍ड ड्रिंक और जंक फुड जैसी चीजें हटा दें।   
इस तकनीक में थोड़ा समय लगता है। लेकिन ये काफी कारगर है। एक महीने नियमित रूप से करने के बाद आपको बिस्तर में लेटते ही नींद आने लगेगी।
 ......

Leave A comment