ये हैं वो शख्स, जिनके फंड से चल रहीं दुनिया की बड़ी कंपनियां, Alien को खोजने में भी किया निवेश

ये हैं वो शख्स, जिनके फंड से चल रहीं दुनिया की बड़ी कंपनियां, Alien को खोजने में भी किया निवेश

By: Aryan Paul
November 13, 12:11
0
New Delhi: RUSSIA के Yuri Milner दुनिया के सबसे बड़े INVESTORES में गिने जाते हैं। Milner ने जमीन से लेकर SKY तक कई बड़े PROJCET में INVEST किया है। Alien को खोजने में वो Stephen Hawking के साथ काम कर रहे हैं।

सबसे पहले आपको बता दें कि मिलनर रूस के सबसे बुद्धिमान युवा टेक इनवेस्टर माने जाते हैं। जो कि रूस के अमीरों की टॉप लिस्ट में हैं। मिलनर ने रूस से लेकर भारत और अमेरिका में काफी निवेश किया है। मिलनर का बड़ा निवेश फेसबुक, जांगा, ट्विटर, स्पोटीफाई, जोकडोक, जियोमी, व्हाटसएप्प, हबीतो में बड़ा निवेश है।

इसके साथ ही मिलनर ने चीनी ऑनलाइन कंपनी अलीबाबा में भी बड़ा निवेश किया है। आपको बता दें कि अली बाबा के जैक मा एशिया के सबसे अमीर आदमी है। अगर भारत की बात करें तो भारत में इन्होंने ओलाकैब, फिल्पकार्ट में भी बड़ा निवेश किया है। यूरी मिलनर भारत में अपनी निजी इक्विटी निवेश को बढ़ाने की संभावना तलाश रहे हैं। बता दें कि 2014 में पहली बार भारत में तब निवेश किया था जब उनकी कंपनी डीएसटी ग्लोबल ने फ्लिपकार्ट में 25 करोड़ डॉलर के निवेश की अगुआई की थी। फिर 2015 में ओला में इसने निवेश किया। मिलनर ने प्रैक्टो, क्राफ्ट्सविला और नेस्ट अवे टेक्नोलॉजिज जैसे स्टार्टअप पर भी दांव लगाया है। 

भारत को लेकर यूरी मिलनर का कहना है कि स्टार्टअप्स के लिए माहौल एकदम सही है और कंपनियां छोटे बजट में भी शानदार काम कर रही हैं। अब तक यहां सबसे ज्यादा निवेश कंज्यूमर टेक, और ई कॉमर्स में हुआ है । उनका कहना है कि सिलिकॉन वैली में बरसों से जमे ऐसे निवेशकों को भारत से काफी उम्मीदें हैं और ये यकीन भी है कि अगर देश में हो रहें रेग्युलेटरी बदलाव जारी रहे तो भारत बाकी इमर्जिंग देशों के लिए एक मिसाल बनेगा।

इंटरनेट इनवेस्टर और फिलेन्थ्रोफिस्ट यूरी मिलनर स्टेफन हॉकिन्स के भी साथ काम कर रहे हैं। मार्क जुगरबर्ग, स्टीफन हाकिंग्स, यूरी मिलनर की तिकड़ी 100 मिलियन डॉलर के एक प्रोजेक्ट पर काम कर ही है। प्रोजेक्ट का नाम 'ब्रेकथ्रू लिसन' है। जिसके जरिए आकाशगंगाओं और करीब के तारों की निगरानी की जा रही है। इस प्रोजेक्ट में दुनिया के सबसे शक्तिशाली टेलिस्कोप के माध्यम से प्रॉक्सिमा-बी से आने वाले संदेशों को सुना जाएगा। पृथ्वी जैसे लगने वाले इस ग्रह का आधिकारिक नाम प्रॉक्सिमा-बी है। माना जाता है इस ग्रह पर जीवन की संभावनाएं मौजूद हैं और यह पृथ्वी से महज 4 प्रकाश वर्ष की दूरी पर है। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।