गोवा के CM बोले- राजनीति में अपनी मर्जी से नहीं आया, लेकिन अपनी मर्जी से राजनीति छोड़ सकता हूं

गोवा के CM बोले- राजनीति में अपनी मर्जी से नहीं आया, लेकिन अपनी मर्जी से राजनीति छोड़ सकता हूं

By: Aryan Paul
September 08, 10:09
0
New Delhi:

पणजी में पत्रकारों के एक ग्रुप से बात करते हुए गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि राजनीति में आना उनकी इच्छा नहीं थी, लेकिन अगर उन्हें लगा कि वो राजनीति नहीं कर पा रहे हैं तो वे बिना किसी से कहे राजनीति छोड़ देंगे ।

पूर्व रक्षा मंत्री और अब गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर अपनी सादगी के लिए जाने जाते हैं। उनके रहन-सहन और उनके तौर-तरीके कभी नहीं बदले, चाहे वो देश के रक्षामंत्री रहे हो या गोवा के मुख्यमंत्री। वे अपनी सादगी के लिए मशहूर हैं। एक समारोह के दौरान उन्होंने कहा कि अगर उन्हें कभी भी ये महसूस हुआ कि वो राजनीति नहीं कर पार रहे हैं, तो वे राजनीति छोड़ देंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि गोवा सरकार पर कोई संकट नहीं है, वो अपना कार्यकाल पूरा करेंगे ।

बता दें कि मनोहर पर्रिकर IIT बॉंबे से ग्रेजुएट हैं। उन्होंने कहा कि मेरा कोई राजनीतिक बैकग्राउंड नहीं है, ना ही मैं अपनी मर्जी से राजनीति में आया हूं । एक सवाल के जवाब में पर्रिकर ने कहा कि जब वो राजनीति में आए थे, तो ये सोचा था कि 10 साल बाद राजनीति छोड़ दूंगा। अगर उन्हें जरा भी काम ना कर पाने का एहसास हुआ, तो वो तुरंत राजनीति छोड़ देंगे ।

राज्य की राजनीति छोड़कर केंद्रीय राजनीति करने के सवाल पर मनोहर पर्रिकर ने कहा कि उन्हें लगा, केंद्र में उनकी जरूरत है। समय की मांग के हिसाब से उनकी भागीदारी की जरूरत थी, इसलिए उन्हें केंद्रीय राजनीति में जाना पड़ा था, लेकिन वे अब बिना अपना कार्यकाल पूरा किए कहीं नहीं जाएंगे और ना ही उनकी सरकार को कोई खतरा है। साथ ही उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री रहते हुए वे दिल्ली में एडजस्ट भी नहीं कर पा रहे थे। उन्होंने कहा कि वे अगर राजनीति परिवार में ही पैदा हुए होते, तो वे जरूर दिल्ली में एडजस्ट कर लेते ।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।