देश के चारों टकसाल में बंद हो गई है सिक्कों की ढलाई, जानिए कारण

देश के चारों टकसाल में बंद हो गई है सिक्कों की ढलाई, जानिए कारण

By: Aryan Paul
January 11, 09:01
0
New Delhi: टकसाल में सिक्कों का ढेर लगने के कारण ढलाई रोकनी पड़ी है। इसी वजह से सिक्के बनाने का काम रोक दिया गया है। 

जानकारों के मुताबिक, RBI के कोषागार नोटबंदी के दौरान लोगों के घंटों-घंटों तक कतारों में लगकर जमा कराई गई करेंसी से भरे हुए हैं और इसके चलते RBI टकसालों से सिक्के कम ही ले रहा है। इसी के चलते सिक्के बनाना रोक पड़ा है। बता दें कि सिक्योरिटी प्रिंटिंग एंड मिंटिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के पास मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद और नोएडा में टकसाल हैं। 

टकसाल

बता दें कि मुंबई मिंट के इंटरनल नोटिस में कहा गया है कि एसपीएमसीआईएल से मिले निर्देश के अनुसार, सभी कर्मचारियों को सूचित किया जा रहा है कि इंडिया गवर्नमेंट मिंट, मुंबई में सर्कुलेशन कॉइंस का उत्पादन तत्काल प्रभाव से रोक दिया जाएगा। साथ ही यह भी बताया गया है कि इस कदम से आम लोगों को कोई परेशानी नहीं होगी, क्योंकि RBI के पास सिक्कों की पर्याप्त आपूर्ति है। 

आखिरकार अमेरिका ने पाकिस्तान को माना आतंकी देश, अपने नागरिकों से कहा-वहां जाना मत

सिक्का

बताया गया है कि 24 नवंबर 2016 को RBI के पास 1, 2, 5 और 10 रुपये के 676 करोड़ रुपये के सिक्के थे। RBI के मुताबिक, टकसालों से सिक्के इसलिए कम उठाए जा रहे हैं, क्योंकि उन्हें रखने के लिए जगह कम पड़ रही है। अधिकारी ने बताया कि 500 और 1000 रुपये के वो नोट ही भरे हुए हैं, जिन्हें रद्द करार दिया गया है। बता दें कि नवंबर 2016 में नोटबंदी के चलते उस वक्त सर्कुलेशन में रहे नोटों का करीब 85 पर्सेंट हिस्सा अवैध करार दिया गया था। 

AXIS बैंक में सेविंग अकाउंट वालों के लिए सबसे बड़ी खुशखबरी, पढ़कर झूम उठेंगे आप


सिक्के

हालांकि सिक्का ढलाई रोकने से कर्मचारी खुश नहीं हैं, क्योंकि इससे उनके ओवरटाइम पर असर पड़ रहा है। मुंबई मिंट के नोटिस में कहा गया है कि मिंट में अब 9 जनवरी से सामान्य वर्किंग आवर्स रहेंगे। और अगले आदेश तक कोई ओवरटाइम नहीं होगा। जबकि नोएडा यूनिट का कहना है कि उसके स्टॉक में 2.53 अरब के सिक्के हैं, जिन्हें आरबीआई ने लेना बंद कर दिया है। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।