रूस की कई कंपनियां पहली बार करेंगी भारत में निवेश, रोसनेफ्ट ने एस्सार में 49 फीसदी शेयर खरीदे

रूस की कई कंपनियां पहली बार करेंगी भारत में निवेश, रोसनेफ्ट ने एस्सार में 49 फीसदी शेयर खरीदे

By: Aryan Paul
November 13, 10:11
0
New Delhi: 

आपको बता दें कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का करीबी माना-जाता है, वीटीबी समूह को। जो कि रूस के दूसरे सबसे बड़े बैंक का मालिक है। रूस में निवेश बैंकिंग कारोबार में भी वीटीबी समूह का दबदबा है। जानकारी के मुताबिक, कुछ दिनों पहले वीटीबी ने भारत में एस्सार ग्रुप के साथ हाथ मिलाया है। वीटीबी समूह एनसीएलटी की नीलामी में एस्सार स्टील के लिए बोली लगाएगा।

हालांकि भारतीयों कंपनियों के साथ वीटीबी का यह पहला गठजोड़ नहीं है। इससे पहले भी वीटीबी ग्रुप रूइया और जीएमआर ग्रुप को कई बार वित्तीय मदद दे चुका है। ब्लूमबर्ग की तरफ से वीटीबी को भारत में पिछले साल हुए कई अधिग्रहण सौदे की सूची में 5 टॉप वित्तपोषकों में शुमार किया गया है। इसके अलावा रूस की कई कंपनियों ने पहली बार कई भारतीयों कंपनियों के साथ समझौता किया है। जैसे कि- लार्सन ऐंड टुब्रो, रिलायंस इन्फ्रास्ट्रक्चर और भारत फोर्ज। इन कंपनियों ने समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किया है। 

सिस्तेमा पीजेएसएफसी के एक अधिकारी के मुताबिक, पिछले कुछ दशकों से रूसी कंपनियां सरकार या सरकारी कंपनियों के साथ ही काम करना पसंद करती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं है। इनमें काफी बदलाव आया है। ये कंपनियां अब भारत में प्राइवेट कंपनियों के साथ भी कारोबार करने को इच्छुक हैं। साथ ही ये भी बता दें कि एस्सार ऑयल के अधिग्रहण में निवेश करने वाला वीटीबी अकेला नहीं है। बल्कि इसमें रूस की यूरी मिलनर, लियोनिद बोगुस्लावस्की, तेल-गैस क्षेत्र की दिग्गज रोसनेफ्ट, उरालमाश और सिस्तेमा जेएसएफसी आदि शामिल हैं।
 

भारत में प्राइवेट सेक्टर में रूसी कंपनी रोसनेफ्ट ने सबसे बड़ा निवेश यूसीबी और ट्राफिगुरा में किया है। इसके तहत 13 अरब डॉलर में एस्सार ऑयल का अधिग्रहण किया गया है। जानकारों के मुताबिक सरकार कंपनी का भारत में प्रवेश करना बड़ा फैसला है। जिसके भविष्य में कई बड़े फैसले हो सकते हैं। विश्लेषकों का कहना है कि यूक्रेन मामले के बाद रूसी सरकार को अमेरिका और यूरोप की बंदिशों का समाना करना पड़ रहा है। ऐसे में उन्हें तेल को लेकर दिक्कत हो रही थी, इसी वजह से रोसनेफ्ट ने एस्सार में 49 फीसदी शेयर खरीदें।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।