पटाखा बैन से व्यापारी परेशान,कहा-पहले नोटबंदी झेली,फिर GST की मार झेला और अब ये?हम क्या करें?

पटाखा बैन से व्यापारी परेशान,कहा-पहले नोटबंदी झेली,फिर GST की मार झेला और अब ये?हम क्या करें?

By: Naina Srivastava
October 13, 10:10
0
.....

New Delhi: दिल्ली में लगे पटाखों पर बैन के बाद व्यापारी परेशान हैं। व्यापारियों का कहना है कि हम लगातार परेशानी झेल रहे हैं, पहले नोटबंदी झेली, फिर GST झेला और अब ये कैसे झेलें? ऐसा ही रहा तो हमारी दीवाली काल हो जाएगी। 28 फीसदी वस्तु एवं सेवाकर (GST) देकर पटाखा खरीदा। लेकिन सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद हमे अपनी दुकान बंद करनी होगी।

दिवाली से पहले सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसला देते हुए दिल्ली-NCR में पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी है। सुप्रीम कोर्ट की ओर से दिल्ली में लगे पटाखों पर बैन के बाद एक-एक करके पटाखा व्यापारी अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।  सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-एनसीआर में 1 नवंबर तक पटाखों की बिक्री बैन करने का आदेश दिया है। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने सभी स्थायी और अस्थायी लाइसेंसों को निलंबित कर दिया है। 1 नवंबर से पटाखे बिक सकेंगे। 

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि वह एक बार ये देखना चाहता है कि दिवाली पर पटाखों का इस्तेमाल ना करने पर किस तरह के हालात होंगे।  व्यापारी ने कहा कि पहले नोटबंदी, फिर GST की मार और अब ये, हम क्या करें? एक अन्य व्यापारी ने कहा कि नोटबंदी भी झेली, जीएसटी भी झेला और अब ये झेल रहे हैं।

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट के अगले आदेश तक दिल्ली-एनसीआर में दूसरे राज्यों से पटाखे नहीं लाए जाएंगे, क्योंकि यहां पहले से ही पटाखे मौजूद हैं। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जिन लाइसेंस धारी दुकानदारों के पास पटाखे हैं वो अपना पटाखे बेच सकते हैं या दूसरे राज्यों को निर्यात कर सकते हैं। पटाखों के लाइसेंस पर लगी रोक को सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल अंतरिम रूप से हटाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दीपावली के बाद वायु की गुणवत्ता को देखते हुए इस मामले में सुनवाई की जाएगी।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।