कानपुर के कुख्यात विकास दुबे के तीन सहयोगी में से एक को कोरोना हुआ, पुलिस-प्रशासन सकते में

New Delhi : कानुपर के गैंगस्टर विकास दुबे के गिरफ्तार किये गये 3 साथी में से एक कोरोना संक्रमित पाया गया है। अंकुर और उसके पिता श्रवण और विकास दुबे के एक गुर्गे प्रभात को गिरफ्तार किया गया था। फरीदाबाद पुलिस ने कोरोना का टेस्ट कराया, जिसमें श्रवण कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जबकि श्रवण का बेटा अंकुर और प्रभात की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आयी है।

आज ही विकास दुबे गैंग के 3 लोगों को फरीदाबाद से गिरफ्तार किया गया था। फरीदाबाद कोर्ट ने विकास के साथी प्रभात उर्फ कार्तिकेय को 24 घंटे के ट्रांजिट रिमांड पर कानपुर पुलिस को सौंप दिया है। प्रभात को यूपी एसटीएफ ले गई है। अंकुर और श्रवण को न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। अंकुर और श्रवण को फरीदाबाद जेल में रखेंगे, क्योंकि उन्होंने संरक्षण दिया था। यहां के आरोपी हैं। श्रवण को जेल में क्वारंटीन की सुविधा मिलेगी। साथ ही पुलिस वालों का टेस्ट होगा जो इन तीनों को गिरफ्तार करके लाये थे।
कानपुर से फरार चल रहे विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिये ताबड़तोड़ छापेमारी जारी है। यूपी सरकार ने इस दौरान विकास दुबे पर इनाम भी बढ़ाकर 5 लाख घोषित कर दिया है। वहीं विकास दुबे के अलावा उसकी पत्नी रिचा दुबे भी फरार चल रही है, पुलिस उसकी भी तलाश में है।
दिल्ली हरियाणा से जुड़ी हुई सीमा राजस्थान के भिवाड़ी में भी पुलिस एक्टिव हो गई है। कानपुर एनकाउंटर मामले में वांछित गैंगस्टर विकास दुबे को पकड़ने के लिए बॉर्डर पर पुलिस तैनात की गई है। सभी आने-जाने वाले वाहनों की सघन तलाशी की जा रही है। साथ ही बॉर्डर पर क्विक रेस्पॉन्स टीम के कमांडो भी तैनात किये गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifty eight − 50 =