लॉकडाउन में बेरोजगार हुआ नोएडा का इंजीनियर, नई नहीं मिली, गांव लौटा और चाय की शॉप खोल ली

New Delhi : यह फोटो अबसे 25 मिनट पहले खींची है। जो खूबसूरत लड़का चाय बना रहा है उसका नाम अंकित यादव है। यूपी के सोनभद्र स्थित गोविंदपुर में बनारस रोड पर चाय बेचता है। बातचीत में पता चला लॉकडाउन से पहले नोएडा में एक कंपनी में इंजीनियर था इसने मेरी तरह ही इलेक्ट्रिकल इंजियनरिंग की पढ़ाई कर रखी है। हमने पूछा कि क्यों छोड़ दी नौकरी? उसने बोला भईया कंपनी बन्द हो गई 32 हजार मिलते थे, ढूंढ ढूंढ कर थक गया मगर नौकरी नही मिली, फिर एक रोज मां ने कसम देकर बुला लिया और मैंने चाय की दुकान खोल ली।”

यह फोटो अबसे 25 मिनट पहले खींची है। जो खूबसूरत लड़का चाय बना रहा है उसका नाम अंकित यादव है। यूपी के सोनभद्र स्थित…

Awesh Tiwari यांनी वर पोस्ट केले शनिवार, १० ऑक्टोबर, २०२०

हमने कहा कि मैं 500 किमी ड्राइव करके आ रहा तुम्हारे जैसी चाय कहीं नही मिली। इस पर अंकित बोला” मुझे सबसे अच्छी सबसे अलग चाय बनानी है।”
अंकित ने एक और अच्छी बात बताई। मुझे मिट्टी के पुरवे ( कुल्हड़) लेने थे। हमने पूछा क्या रेट चल रहा। उसने कहा भईया लॉकडाउन में रेट बढ़ गया है जो पहले 80 रुपये सैकड़े था अब वह 120 रुपये हो गया। आस पास के सारे दुकानदार मिट्टी के कुल्हड़ में ही चाय दे रहे। गांवो मे कुल्हड़ बनाने वाले भी बढ़ गए हैं।मुझे अच्छा लगा। आप सोच सकते हैं देश मे रोजगार के पैटर्न कैसे बदल रहे हैं। राज्य सरकारों को इस स्थिति को समझना चाहिए। आइये ग्रामीण अर्थव्यस्था को और मजबूत करें एवं बेरोजगारी के शिकार युवाओं का सम्बल बनें। (साभार- आवेश तिवारी के फेसबुक वॉल से)

आवेश तिवारी का यह पोस्ट लोगों के बीच काफी वायरल हो गया है। इससे पहले मध्य प्रदेश की एक तस्वीर भी वायरल हुई थी। तस्वीर थी इंजीनियर चायवाले की। इंजीनियर चायवाले का टैगलाइन है- with job satisfaction। आईएएस अफसर अवनीश शरण ने जब यह पोस्ट शेयर की तो यह वायरल हो गया। आईएएस शरण ने ट‍्वीट किया- आज के समय में इतनी ईमानदारी कहाँ दिखती है…सब कुछ साफ़ साफ़ बता दिया इन्होंने!! ‘इंजीनियर चायवाला’ with job satisfaction। लोगों ने इंजीनियर चायवाले की जमकर तारीफ की। और ये चायवाले हैं छिंदवाड़ा के एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर अंकित नागपाल। नौकरी करने वाले अंकित नागवंशी लाखों कमाते थे। शहर के ELC चौक में खुद का चाय का ठेला लगाकर व्यापार शुरू किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

+ twelve = twenty