सैन्य प्रुमख के बयान ने केंद्र को असहज किया, म्यांमार पर बयान दे रावत ने मचाई सनसनी

सैन्य प्रुमख के बयान ने केंद्र को असहज किया, म्यांमार पर बयान दे रावत ने मचाई सनसनी

By: Aryan Paul
December 04, 13:12
0
New Delhi:  एक तरफ जहां म्यांमार के साथ सरकार रिश्ते सुधारने में लगी है, तो वहीं आर्मी चीफ का बयान चिंताजनक है। बता दें कि उन्होंने कहा था कि 2015 में की गई सर्जिकल स्ट्राइक चिंता का विषय है।

बता दें कि सरकार म्यांमार के साथ मिलकर रोहिंग्या मुद्दे को सुलझाने में जुटी है। इसके अलावा नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड के संबंध भी सीमा पर आतंकियों से जुड़े हैं। लिहाजा सरकार कई मामलों पर म्यांमार सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है।

गृह मंत्रालय

नाम ना छापे जाने की शर्त पर मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि इस समय म्यांमार के साथ हम कई जटिल मुद्दों को सुलझाने में जुटे हैं। और ऐसे में जनरल का बयान काफी ज्यादा अहम रखता है, क्योंकि रोहिंग्या मामला अभी काफी नाजुक दौर में है। इसके अलावा असम और नागालैंड में अलगाववादी तत्व भी काफी ज्यादा खतरा पैदा कर रहे हैं, क्योंकि वे कुछ भी होने पर आसानी से म्यांमार की सीमा में घुस जाते हैं।

सर्जिकल स्ट्राइक

कश्मीर की बदलती तस्वीर, विकास ने ली आतंक की जगह, पहली बार खुलने जा रहे हैं 7 स्टार होटल 

बता दें कि एक कार्यक्रम में जनरल रावत ने कहा था कि जब पहली बार म्यामांर में जाकर सर्जिकल स्ट्राइक करनी पड़ी थी। तब स्पेशल फोर्स के कमांडो को काफी परेशानी हुई थी। और हमारा काफी नुकसान भी हुआ था। वह कई तरह की परेशानियों से भी गुजरना पड़ा था। हालांकि 2 सालों बाद आया जनरल का ये बयान काफी महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि इससे पहले किसी ने भी इसको लेकर कुछ नहीं कहा था।


म्यांमार

तिहाड़ में पुलिसकर्मी को पीटा, लगे PAK जिंदाबाद-भारत मुर्दाबाद के नारे, कर्फ्यू जैसे हालात 

इसके अलावा म्यांमार प्रजिडेंट ऑफिस की तरफ से भी बयान जारी कर कहा गया है कि अब किसी भी दूसरे देश को म्यांमार के एरिया में घुसने नहीं दिया जाएगा, क्योंकि किसी भी देश की संप्रभुता को दूसरे देश को भी समझना चाहिए । 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।