अभी-अभी: ऑनलाइन पटाखा बेचने और खरीदने वालों पर भी होगा एक्शन: दिल्ली पुलिस

अभी-अभी: ऑनलाइन पटाखा बेचने और खरीदने वालों पर भी होगा एक्शन: दिल्ली पुलिस

By: Naina Srivastava
October 12, 09:10
0
....

New Delhi: दिल्ली-एनसीआर में व्यपारियों द्वारा पटाखा बिक्री पर रोक के बाद अब ऑनलाइन बिक्री पर भी सख्ती बरती जाएगी। सुप्रीम कोर्ट में पटाखा व्यापारियों ने पटाखा बेचने की अनुमति की गुहार लगाई है। पटाखा व्यापारियों का कहना है कि कोर्ट उन्हें पटाखे बेचने की अनुमति दे वरना उनके बच्चे दिवाली पर भूखे रहेंगे। तो वहीं दिल्ली पुलिस का कहना है कि ऑनलाइन पटाखा बेचने और खरीदने वालों पर भी एक्शन होगा। 

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के पटाखे बैन के फैसले के बाद व्यापारियों ने कोर्ट में एक याचिका भी दायर की है। वहीं, सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिल्ली में पटाखों की बिक्री पर लगाया गया बैन भले ही राजधानी की हवा ज्यादा गंदी होने से बचा ले, लेकिन बैन पटाखा उद्योग से जुड़े लाखों कामगारों का सांस लेना मुश्किल होना तय है। देश में पटाखों के मैन्युफैक्चरिंग हब तमिलनाडु का शिवकाशी दिल्ली में लगे इस बैन से सबसे ज्यादा प्रभावित होगा। 

शिवकाशी का पटाखा उद्योग 7 हजार करोड़ रुपए का है और देश के कुल पटाखा उद्योग में इसकी हिस्सेदारी 85 प्रतिशत है। पटाखा बैन से पटाखा उद्योग को करीब 1,000 करोड़ रुपये का घाटा हो सकता है।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि पटाखों की बिक्री 1 नवंबर, 2017 से दोबारा शुरू हो सकेगी। इस फैसले से सुप्रीम कोर्ट देखना चाहता है कि पटाखों के कारण प्रदूषण पर कितना असर पड़ता है। गौरतलब है कि पिछले साल भी कुछ बच्चों ने सुप्रीम कोर्ट में पटाखा बैन को लेकर अर्जी डाली थी। सुप्रीम कोर्ट में तीन बच्चों की ओर से दाखिल एक याचिका में दशहरे और दीवाली पर पटाखे जलाने पर पाबंदी लगाने की मांग की गई थी।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।