मां दुर्गा घोड़े पर सवार होकर समृद्धि लायेंगी, भैंस पर सवार होकर लौट जायेंगी

New Delhi : शारदीय नवरात्रि की शुरुआत 17 अक्टूबर यानि शनिवार से हो रही है। माँ दुर्गा के स्वागत के लिए भक्त तैयार हैं। इस वर्ष नवरात्रि पर कई शुभ संयोग बन रहे हैं। शास्त्रों के अनुसार, नवरात्रि के प्रत्येक दिन, माँ दुर्गा विभिन्न वाहनों पर सवार होकर भक्तों को आशीर्वाद देने के लिए पृथ्वी पर आती हैं। बताया जा रहा है कि इस बार मां दुर्गा शेर की सवारी छोड़कर घोड़े पर आएंगी और भैंस पर सवार होकर निकलेंगी। इस बार अष्टमी और नवमी एक ही दिन पड़ रही है।
नवरात्रि 17 अक्टूबर से शुरू होकर 25 अक्टूबर तक चलेगी।24 अक्टूबर को सूर्योदय से अष्टमी और दोपहर में नवमी तिथि होगी। 25 अक्टूबर को दशमी तिथि है। इस वर्ष की तरह, अगले वर्ष भी, नवरात्रि चैत्र शुक्ल प्रतिपदा 2021 को, माँ दुर्गा का वाहन अश्व यानी घोड़ा होगा। ज्योतिषियों के अनुसार, लगातार दो नवरात्रि में मां दुर्गा का एक ही वाहन होना शुभ संकेत नहीं है।
इस वर्ष नवरात्रि में विशेष संयोग बन रहा है। बताया जा रहा है कि यह शुभ संयोग 58 साल बाद बन रहा है। इस वर्ष, शनि और गुरु अपने शपथ मकर और धनु राशि में रहेंगे। यह संयोग बहुत शुभ माना जाता है। ज्योतिषियों के अनुसार, इस विशेष संयोग से, मां दुर्गा जल्द ही प्रसन्न होंगी और अपनी इच्छाओं को पूरा करेंगी।
17 अक्टूबर – मां शैलपुत्री पूजा, घटस्थापना
18 अक्टूबर – मां ब्रह्मचारिणी पूजा
19 अक्टूबर – मां चंद्रघंटा पूजा
20 अक्टूबर – मां कुष्मांडा पूजा
21 अक्टूबर – माँ स्कंदमाता पूजा
22 अक्टूबर – षष्टी मां कात्यायनी पूजा
23 अक्टूबर – मां कालरात्रि पूजा
24 अक्टूबर – माँ महागौरी दुर्गा पूजा
25 अक्टूबर – मां सिद्धिदात्री पूजा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

forty nine − = thirty nine